मुख्यपृष्ठनए समाचारनई मुंबई कोली बंधुओं ने मनाया नारियल पूर्णिया महोत्सव

नई मुंबई कोली बंधुओं ने मनाया नारियल पूर्णिया महोत्सव

नई मुंबई

नारियल पूर्णिमा महाराष्ट्र में कोली समाज के लिए एक महत्वपूर्ण त्योहार माना जाता है। इस त्योहार पर समुद्र के किनारे पूजा-अर्चना की जाती है और सोने का नारियल या साधारण नारियल समुद्र को अर्पण किया जाता है। बारिश के मौसम में समुद्र काफी उग्र हो जाता है, इसलिए नाव और जहाजों का आवागमन बंद रहता है। इसलिए तीन महीने के लिए कोली समाज समुद्र में मछली पकड़ना बंद कर देते हैं। नारियल पूर्णिमा के दिन कोली बांधव की तरफ से समुद्र की पूजा बड़े ही विधि विधान से किया जाता है, ताकि समुद्र नाराज ना हों, जहाज और नौकाएं सुरक्षित रहें। इस दौरान कोली बंधुओं ने पूजा में यथासंभव सोने का नारियल या साधारण नारियल समुद्र को अर्पण करते हैं। इस दौरान नेरुल गांव के ग्रामस्थ नामदेव भगत के हाथों पूजा का शुभारंभ किया गया।

अन्य समाचार