मुख्यपृष्ठनए समाचारनीतिश ने जीता विश्वास मत,  सदन से सीएम ने किया यलगार ...आजादी...

नीतिश ने जीता विश्वास मत,  सदन से सीएम ने किया यलगार …आजादी का ‘जज्बा’ पैदा कीजिए!’

• ‘२०२४ में सभी मिलकर चुनाव लड़ेंगे’
सामना संवाददाता / पटना
बिहार विधानसभा में कल जेडीयू-राजद और कांग्रेस की महागठबंधन सरकार ने विश्वासमत हासिल कर लिया। सरकार को बहुमत के लिए १२२ वोट की जरूरत थी, जबकि विश्वास प्रस्ताव पर १६० विधायक सीएम नीतिश के पक्ष में रहे। इस दौरान कुछ भाजपा विधायकों ने सदन से वॉकआउट किया, तो नीतिश कुमार ने उन पर तंज कसते हुए कहा कि आप सब भाग रहे हैं, जरूर आलाकमान ने आपसे ऐसा करने को कहा होगा।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार ने कल विधानसभा में बोलते हुए भाजपा के खिलाफ जोरदार हमला बोला है। नीतिश कुमार ने भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी और पूर्व दिवंगत पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की तारीफ की और पीएम नरेंद्र मोदी का नाम लिए बगैर उन पर जोरदार हमला बोला।

सीएम नीतिश कुमार ने कहा कि केवल २०२० विधानसभा चुनाव की बात मत कीजिए, अतीत के उन चुनावों को भी याद कीजिए जब जेडीयू ने भाजपा से ज्यादा सीटें जीती थीं। नीतिश कुमार ने आरोप लगाया कि भाजपा प्रचार करती है, काम नहीं करती। उन्होंने कहा, ‘आजादी की लड़ाई में आप कहां थे?’ नीतिश ने कहा, ‘हम लोगों ने गांव में सड़क पहुंचाने का काम किया। कोई ऐसा गांव बचा है क्या जहां सड़क न हो, ये केंद्र सरकार के चलते सड़क नहीं है, हमने काम किया। गांवों में सड़क बनाने का पैâसला अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार ने लिया था और हमने साथ मिलकर उसे साकार किया था। आज की भाजपा पर निशाना साधते हुए नीतिश कुमार ने कहा, ‘जो अंड-बंड बोलेगा उसी को केंद्र में जगह मिलेगी। भाजपा में अच्छे लोगों को मौका नहीं है।’ उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाया कि वह गांधी को भी खत्म कर रही है और सिर्फ झगड़ा-फसाद कराने में उसका ध्यान है। नीतिश कुमार ने कहा कि उनकी एक ही इच्छा है कि सब मिलकर बिहार को आगे बढ़ाएं। नीतिश ने कहा कि सबको एक होकर काम करना होगा। एकजुट हुए तो इनको कोई नहीं पूछेगा। ये समाज में झगड़ा पैदा करना चाहते हैं। नीतिश कुमार ने कहा कि एनडीए सरकार में वह सीएम नहीं बनना चाहते थे लेकिन दबाव डालकर उन्हें बनाया गया था। उन्होंने कहा कि २०२० में हमने कहा था कि ज्यादा सीट आप जीते हैं तो आपका मुख्यमंत्री बनना चाहिए। लेकिन मुझ पर दवाब दिया गया कि आप ही संभालिए। हमारी पार्टी के लोगों ने तय किया, तो हम जहां पहले थे, वहां चले गए।

तीन दामाद भेज देती है भाजपा – तेजस्वी
तेजस्वी ने कहा, ‘हम क्रिकेटर हैं और इस जोड़ी (राजद और जदयू) के बीच कभी न खत्म होनेवाली साझेदारी होनेवाली है। यह सबसे लंबी पारी होने जा रही है, यह साझेदारी बिहार और देश के विकास के लिए काम करेगी। इस बार कोई रन आउट नहीं हो रहा।’ बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने विधानसभा में कहा, ‘जहां भी भाजपा सत्ता में नहीं है, वो अपने तीन दामाद भेज देती है- ईडी, सीबीआई और आईटी। जब मैं विदेश जाता हूं, तो भाजपा मेरे खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी करती है और जब नीरव मोदी जैसे धोखेबाज भाग जाते हैं, तो वे कुछ नहीं करते। ये क्षेत्रीय दलों को खत्म करना चाहते हैं।’

 

अन्य समाचार