मुख्यपृष्ठनए समाचारनहीं हुई `क्रॉस वोटिंग'! -प्रफुल्ल पटेल

नहीं हुई `क्रॉस वोटिंग’! -प्रफुल्ल पटेल

सामना संवाददाता / मुंबई 

महाराष्ट्र की छह राज्यसभा सीट के लिए हुए चुनाव में शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के किसी विधायक ने `क्रॉस वोटिंग’ नहीं की। यह बात राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के वरिष्ठ नेता तथा नव-निर्वाचित राज्यसभा सदस्य प्रफुल्ल पटेल ने कल नागपुर में मीडिया से बातचीत के दौरान कही। उन्होंने नागपुर हवाई अड्डे पर पत्रकारों से कहा कि प्रथम दृष्टया शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस का गठबंधन महाविकास आघाड़ी (एमवीए) चार-पांच निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल नहीं कर पाई। पटेल ने चुनाव में `क्रॉस वोटिंग’ की आशंका से इनकार करते हुए कहा कि राकांपा, कांग्रेस और शिवसेना के विधायकों ने पार्टी लाइन के हिसाब से मतदान किया। उन्होंने कहा कि इन तीनों दलों के किसी भी विधायक ने क्रॉस वोटिंग नहीं की। पत्रकारों ने पूछा कि एमवीए शिवसेना के दूसरे उम्मीदवार संजय पवार को जीत क्यों नहीं दिला पाई? इस सवाल पर पूर्व केंद्रीय मंत्री पटेल ने कई कारकों की ओर इशारा किया, जिसमें (शिवसेना के) एक विधायक का वोट अमान्य होना भी शामिल है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा राकांपा नेता नवाब मलिक और अनिल देशमुख वोट नहीं दे सके क्योंकि उन्हें मुंबई उच्च न्यायालय से जमानत नहीं मिली। अगर हम इन चीजों और निर्दलीय व छोटे दलों के विधायकों द्वारा डाले गए वोट पर नजर डालें तो पता चलता है कि चार से पांच वोट कम रह गए। हमें चार-पांच निर्दलीय विधायकों के वोट मिलने की उम्मीद थी लेकिन वे नहीं मिले। कल शनिवार को तड़के घोषित परिणाम के अनुसार शिवसेना के संजय राऊत, राकांपा के प्रफुल्ल पटेल और कांग्रेस के इमरान प्रतापगढ़ी को जीत मिली है, वहीं भाजपा उम्मीदवारों केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, राज्य के पूर्व मंत्री अनिल बोंडे और धनंजय महाडिक ने चुनाव में जीत हासिल की है। छठी सीट के लिए भाजपा के महाडिक और शिवसेना के पवार के बीच कड़ा मुकाबला हुआ, लेकिन पवार हार गए।

अन्य समाचार