मुख्यपृष्ठसमाचारअब गर्भ में नहीं, फैक्ट्री में ‘पैदा’ हो रहे जुड़वां बच्चे

अब गर्भ में नहीं, फैक्ट्री में ‘पैदा’ हो रहे जुड़वां बच्चे

साइंस समय के साथ लगातार नई-नई तरक्की करता जा रहा है। पहले बच्चे के जन्म की प्रक्रिया जो साइंस की पहुंच से बाहर थी, उस पर भी पिछले कुछ साल में विज्ञान ने आईवीएफ टेक्निक के जरिए अपनी पहुंच बना ली है। अब साइंस इसमें दो और कदम आगे बढ़ गया है। जुड़वां बच्चों को लेकर माना जाता था कि यह नेचुरली तब होता है जब मां के गर्भ में दो स्पेर्म फ्यूज हो जाते हैं। आमतौर पर जुड़वां बच्चों का चेहरा और स्वभाव अलग ही होता है। लेकिन रूस में लुक और स्वभाव से भी एक जैसे जुड़वां पैदा हो रहे हैं। हैरानी की बात ये है कि ये ट्विन मां की कोख से नहीं, बल्कि फैक्ट्री में बन हो रहे हैं। यह सुनकर लोगों को हैरानी जरूर हो रही है। रिपोट्र्स के मुताबिक रूस में प्रोमोबोट्स नाम की एक कंपनी  है जो जुड़वां रोबोट्स बनाती है, यानी ये किसी भी इंसान का रोबोट्स बना देती है जो लुक्स और गुण उसी जैसा होता है। पिछले कुछ साल में रूस में इस तरह के रोबोट्स बनवाने का ट्रेंड तेजी से बढ़ रहा है। कंपनी  कई लोगों के ट्विन रोबोट्स बना चुकी है। उसके पास कई ऑर्डर पेंडिंग में हैं। हाल ही में कंपनी मैनेजमेंट ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर दिखाया कि कैसे  वह एक शख्स के ऑर्डर के बाद उसका ट्विन रोबोट्स बना रही है।

अन्य समाचार