मुख्यपृष्ठनए समाचारनो फोटो प्लीज! ... दुर्गा मूर्ति विसर्जन की तस्वीर-वीडियो बैन

नो फोटो प्लीज! … दुर्गा मूर्ति विसर्जन की तस्वीर-वीडियो बैन

•  मुंबई शहर में धारा १४४ की गई लागू
सामना संवाददाता / मुंबई
दुर्गा विसर्जन में फोटो खींचना और वीडियो बनाने पर मुंबई पुलिस ने पाबंदी लगा दी है। पुलिस के मुताबिक विसर्जन के दौरान मां दुर्गा की पानी में तैरती हुई या आधी डूबी हुई प्रतिमाओं की वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं, जिससे लोगों की भावना आहत होती है। जिसे लेकर पुलिस ने ‘नो फोटो प्लीज’ का निर्देश जारी किया है। विसर्जन में नियमों का उल्लंघन करनेवालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का आदेश जारी किया गया है। पुलिस उपायुक्त (संचालन) संजय लाटकर के मुताबिक ५ से ७ अक्टूबर तक दुर्गा माता की मूर्तियों का विसर्जन किया जाएगा। आधी डूबी हुई मूर्तियां हाई टाइड के दौरान किनारे पर बहकर आ जाती हैं या झील के पानी में तैरती नजर आती हैं। आदेश के मुताबिक कुछ लोग ऐसी मूर्तियों की तस्वीरें, वीडियो बनाते हैं, जो किनारे पर आ जाती हैं। इन मूर्तियों को मनपा कर्मचारियों द्वारा फिर से विसर्जन के लिए ले जाया जाता है। लोग ऐसी तस्वीरें या वीडियो को सोशल मीडिया पर प्रसारित करते हैं जो कि धार्मिक भावनाओं को आहत कर सकते हैं और जिसके परिणामस्वरूप शांति भंग हो सकती है। इस वजह से मां दुर्गा की पानी में डूबती हुई मूर्तियों की तस्वीरें या वीडियो लेने पर प्रतिबंध लगाया गया है। इस संबंध में पुलिस ने आपराधिक दंड संहिता की धारा १४४ लागू की है। इस आदेश की अवेहलना करनेवालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई भी की जाएगी।

अन्य समाचार