मुख्यपृष्ठनए समाचारकोहरे की मार झेल रहे कश्मीर में ४ जनवरी से पहले हिमपात...

कोहरे की मार झेल रहे कश्मीर में ४ जनवरी से पहले हिमपात की उम्मीद नहीं!

सुरेश एस. डुग्गर

कश्मीर के मौसम विभाग ने उन हजारों पर्यटकों के दिल तोड़ दिए हैं, जो नववर्ष की पूर्व संध्या पर कश्मीर के पर्यटनस्थलों पर हिमपात का नजारा लेने जुट चुके हैं या फिर आ रहे हैं। दरअसल, लंबे सूखे और प्रदूषण के कारण कश्मीर कई दिनों से जबरदस्त कोहरे से जूझ रहा है और मौसम विज्ञानी कहते हैं कि यह बर्फबारी में रुकावट पैदा कर रहा है।
करीब पांच दिनों से कश्मीर कोहरे के आगोश में है। जम्मू भी इससे अछूता नहीं है, जहां कोहरा जिंदगी की रफ्तार रोकने के साथ ही रेल और उड़ानों पर पहरा देने लगा है। यह कितना है, अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि जम्मू पहुंचने वाली वंदे भारत ५ घंटे देरी से पहुंच रही है तो कई उड़ानें रद्द की जा चुकी हैं।

अगर मौसम विज्ञानियों की मानें तो कश्मीर में बढ़ता प्रदूषण इन परिस्थितियों के लिए बहुत हद तक जिम्मेदार है। वे कहते थे कि इसमें श्रीनगर शहर का सबसे अधिक योगदान है। हालांकि, अभी तक मौसम विभाग ३१ दिसंबर तक फॉग के न हटने की बात कर रहा था, पर ताजा बुलेटिन के मुताबिक, ऐसी परिस्थितियां ४ जनवरी के बाद तक भी जारी रह सकती हैं।

मौसम विभाग का कहना है कि ४ जनवरी को या उसके बाद किसी भारी हिमपात की उम्मीद की जा सकती है, क्योंकि कश्मीर पहुंचने वाले सभी पश्चिमी विक्षोभ प्रदूषण से प्रभावित हो रहे हैं, जो बर्फ का सूखा दूर करने में रुकावट बने हुए हैं।

नतीजतन, कश्मीर ही नहीं जम्मू के अन्य पर्यटनस्थलों पर पहुंचने वाले पर्यटकों में निराशा है। हालांकि, कश्मीर के पहलगाम, गुलमर्ग और सोनमर्ग समेत उन पर्यटन स्थलों पर बुकिंग फुल चल रही है, जहां टूरिस्ट ३१ दिसंबर को बर्फबारी का आनंद लेने की उम्मीद में आए हुए हैं, पर जम्मू के पटनीटॉप समेत अन्य पर्यटन स्थल अभी भी बर्फबारी व पर्यटकों की राह ताक रहे हैं।

अन्य समाचार