मुख्यपृष्ठनए समाचारअब नई मुंबई में होगा तिरुपति बालाजी का दर्शन...१० एकड़ भूखंड पर...

अब नई मुंबई में होगा तिरुपति बालाजी का दर्शन…१० एकड़ भूखंड पर उलवे में होगा मंदिर का निर्माण

• सिडको ने भेजा सरकार को प्रस्ताव
• पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
• मंत्री आदित्य ठाकरे का प्रयास
सामना संवाददाता / मुंबई । विश्व प्रसिद्ध तिरुपति तिरुमाला देवस्थान की ओर से नई मुंबई के उल्वे में बालाजी का मंदिर बनाया जाएगा। देवस्थान के प्रस्ताव पर सिडको ने मुहर लगा दी है। सिडको ने उक्त देवस्थान को भूखंड प्रदान करने के प्रस्ताव को मंजूर कर सरकार के पास भेजने का निर्णय लिया है।

महाराष्ट्र में रहनेवाले भक्तों को श्री वेंकटेश्वर का दर्शन आसानी से हो सके इसके लिए तिरुपति तिरुमाला देवस्थानम नई मुंबई के उल्वे में एक मंदिर का निर्माण करने की तैयारी में है, इसके लिए भूमि आवंटित की जाएगी।

राज्य के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे, शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने सिडको के निदेशक मंडल को उक्त प्रस्ताव को मंजूर कर सरकार को भेजने का निर्देश दिया था। आंध्र प्रदेश के तिरुपति में वेंकटेश्वर की पूजा-अर्चना के लिए आम लोगों का पहुंचना संभव नहीं हो पाता है। ऐसे में महाराष्ट्र और विशेष रूप से मुंबई में भक्तों के लिए तिरुमाला देवस्थान यहां मंदिर बनाने के लिए राज्य सरकार से अनुमति चाहता है। इसके लिए १० एकड़ भूखंड की मांग की गई है। सिडको ने इनके प्रस्ताव को मंजूर किया है। अब इसे राज्य सरकार को भेजेगी। बता दें कि देवस्थान के अध्यक्ष सुब्बा रेड्डी ने इसी वर्ष फरवरी महीने में एक पत्र लिखकर नई मुंबई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास एक मंदिर के निर्माण की अनुमति मांगी थी।

अन्य समाचार