मुख्यपृष्ठखबरेंअब तुमको पगलाना होगा

अब तुमको पगलाना होगा

अब तुमको पगलाना होगा।
पागल मार भगाना होगा।।

सारे अंधों की आंखों में।
कुछ प्रकाश पहुंचाना होगा।।

अंधभक्त को ज्ञान पिलाकर।
सही मार्ग पर लाना होगा।।

जिनके सपने टूट चुके हैं।
उनको गले लगाना होगा।।

बेतरतीब हवा का मौसम।
जल्दी दूर हटाना होगा।।

कूड़ा-कचरा बद्विचार को।
अब तो हवा खिलाना होगा।।

प्यार बांटकर इस धरती से।
नफरत दूर भगाना होगा ।।

झूठ परोसे जब कोई भी।
उसको सबक सिखाना होगा।।

सभी जगह पर मानवता का।
सोया मंत्र जगाना होगा।।

आगे रख करके मशाल को।
हरदम कदम बढ़ाना होगा।।

शिव-शिव जपकर सद्विचार से।
अपना काम चलाना होगा।।

नैतिकता जो बेच दिए हैं।
उनको तो दफनाना होगा।।

अब तुमको पगलाना होगा।
पागल मार भगाना होगा।।

-अन्वेषी

अन्य समाचार