मुख्यपृष्ठनए समाचारगोली लगने से पूंछ में एक अग्निवीर हुआ शहीद...पूंछ में ही सेना...

गोली लगने से पूंछ में एक अग्निवीर हुआ शहीद…पूंछ में ही सेना की गोली से जख्मी नशा तस्कर की भी मौत

सुरेश एस डुग्गर / जम्मू

पूंछ में सेना का एक अग्निवीर शहीद हो गया, जबकि पिछले महीने एलओसी पर जिस नशा तसकर को सेना ने गोली मारी थी, आज उसकी मौत हो गई है।
सेना द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, पूंछ जिले में बुधवार को नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास गोली लगने से अग्निवीर शहीद हो गया। अभी तक इसका पता नहीं चल सका है कि गोली किसी ने चलाई है या अग्निवीर ने खुद ही इसे अंजाम दिया है। जानकारी के मुताबिक, अग्निवीर पूंछ जिले के मनकोट इलाके में नियंत्रण रेखा के पास तैनात था और वारदात के समय वह अपनी ड्यूटी पर थे।
ड्यूटी के दौरान अग्निवीर अमृतपाल सिंह को गोली लगी और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। अधिकारियों ने कहा कि पुलिस ने घटना का संज्ञान लिया है और जांच शुरू कर दी है। पुलिस उनकी मौत के कारणों का खुलासा करने में जुटी हुई है। पुलिस इस बात का पता लगा रही है कि सैनिक की मौत आत्महत्या के कारण हुई या किसी अन्य कारण से।
इस बीच सेनाधिकारियों ने बताया कि जम्मू-कश्मीर के पूंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास सीमा पार से नशीली दवाओं की तस्करी की कोशिश कर रहे एक मादक पदार्थ तस्कर को सेना के जवानों ने पिछले महीने गोली मार दी थी, उसकी आज बुधवार को मौत हो गई।
अधिकारियों ने बताया कि पूंछ के करमारा गांव के रहने वाले यासिर नजीर (22) को गुलपुर सेक्टर से घायल हालत में गिरफ्तार किए जाने के बाद 24 सितंबर को जम्मू के सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। नजीर को सेना के जवानों ने उस समय गोली मार दी जब उसने सीमा पार से नशीले पदार्थों की तस्करी की कोशिश करते हुए रुकने का इशारा करने के बाद भागने का प्रयास किया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तारी के समय उसके पास से ड्रग्स वाला एक पैकेट जब्त किया गया था। उन्होंने बताया कि देर रात करीब 1.25 बजे उनकी मौत हो गई और उनके शव को पोस्टमार्टम के लिए शवगृह में रख दिया गया है।

अन्य समाचार