मुख्यपृष्ठसमाचारमोदी-योगी के सामने डटी रहीं `आराधना'!... कांग्रेस से एक और सपा की...

मोदी-योगी के सामने डटी रहीं `आराधना’!… कांग्रेस से एक और सपा की १३ महिला प्रत्याशी जीतीं

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ। इस बार उत्तर प्रदेश के चुनावी दंगल में भले ही मोदी-योगी अपनी जीत का जश्न मना रहे हैं लेकिन इन सबके बीच कुछ ऐसी महिला नेत्रियां उभरकर सामने आर्इं जिन्होंने भाजपा के प्रत्याशियों को न सिर्फ जोरदार टक्कर दी बल्कि अच्छे-खासे अंतर से जीत हासिल की। इस बार उत्तर प्रदेश में `लड़की हूं लड़ सकती हूं’ का नारा देते हुए कांग्रेस ने १४४ महिला उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा था। इनमें से सिर्फ एक महिला उम्मीदवार ही चुनाव में जीत हासिल कर सकी। वहीं समाजवादी पार्टी की ४६ महिला प्रत्याशियों में से १३ महिलाओं ने जीत हासिल की और मोदी-योगी के सामने मजबूती से टिकी रहीं। बसपा की ३७ महिला प्रत्याशियों में एक भी जीत का स्वाद नहीं चख पाई।
प्रतापगढ़ जिले की रामपुर सीट से कांग्रेस को जीत दिलाने वाली आराधना मिश्रा ने इस विधानसभा चुनाव में जीत की हैट्रिक लगाई है। उन्होंने भाजपा प्रत्याशी नागेश प्रताप सिंह को १४,७४१ वोटों से हराया। आराधना को इस चुनाव में कुल ८३,६५२ वोट मिले हैं।
भाजपा सरकार में उप मुख्यमंत्री रहे केशव प्रसाद मौर्य को मात देकर पल्लवी पटेल ने चुनाव मैदान में अपना झंडा बुलंद किया है। समाजवादी पार्टी के गठबंधन से पल्लवी पटेल इन चुनाव में सिराथू सीट से उतरी थीं और १,०६,२७८ वोट हासिल किए। वहीं उनके सामने खड़े हुए योगी सरकार के प्रदेश में सबसे बड़े चेहरों में से एक केशव प्रसाद मौर्य को ९८,९४१ मत मिले थे। डॉ. पल्लवी पटेल ने ६,८४१ वोटों के अंतर से जीत हासिल की।
बसपा का दामन छोड़ समाजवादी पार्टी में शामिल हुई सैयदा खातून इस बार भाजपा के आगे भी टिकी रहीं और शानदार जीत हासिल की। डुमरियागंज विधानसभा सीट से चुनाव लड़ते हुए सैयदा को जनता ने ८५,०९८ मत दिए तो वहीं उनके विरोध में भाजपा से खड़े हुए राघवेंद्र प्रताप सिंह को कुल ८४,३२७ वोट मिले। सैयदा ने कांटे के मुकाबले में केवल ७७१ मतों से अंतर से जीत हासिल की।
संभल की असमोली विधानसभा सीट से चुनाव लड़ते हुए पिंकी सिंह यादव ने जीत दर्ज की है। इसी के साथ वह तीसरी बार असमोली विधानसभा सीट से विधायक बन गई हैं। २०२२ विधानसभा चुनाव में उन्हें १,११,६५२ वोट मिले, जबकि उनके विरोध में खड़े हुए भाजपा के हरेंद्र कुमार को कुल ८६,४४६ वोट मिले। पिंकी इस बार २५ हजार वोटों के अंतर से चुनाव जीती हैं।

अन्य समाचार