मुख्यपृष्ठअपराधऑटोरिक्शा से गोवंश की तस्करी करने वाला एक तस्कर पकड़ाया, दूसरे की...

ऑटोरिक्शा से गोवंश की तस्करी करने वाला एक तस्कर पकड़ाया, दूसरे की तलाश जारी

सामना संवाददाता / भिवंडी
भिवंडी तालुका के शेलार गांव के लोगों की सक्रियता के कारण ऑटोरिक्शा में ले जा रहे गोवंश की तस्करी करने वाले एक आरोपी को निजामपुर पुलिस ने पकड़ कर तालुका पुलिस के सुपुर्द कर दिया, जबकि अभी फरार दूसरे तस्कर की तलाश पुलिस सरगर्मी से कर रही है।
पुलिस के अनुसार, भिवंडी तालुका क्षेत्र से ऑटोरिक्शा में गोवंश लेकर कुछ लोग चार अगस्त की रात शहर में आ रहे थे। जिन पर शेलार गांव के कुछ लोगों की नजर पड़ी। जिन्होंने ऑटोरिक्शे का पीछा कर गोवंश की तस्करी का वीडियो बनाना शुरू किया, जिसके बाद तस्करों ने ऑटोरिक्शा सहित जानवरों को छोड़कर फरार हो गए। इसकी सूचना मिलते ही भिवंडी तालुका पुलिस ने मौके वारदात पर पहुंचकर ऑटोरिक्शा को जप्त कर गोवंश को बरामद कर लिया। तत्पश्चात पुलिस ने दो अज्ञात गौ तस्करों के खिलाफ वीडियो के आधार पर केस दर्जकर तलाश शुरू की। इधर पुलिस को गौवंश तस्करों की शहर में छुपे होने की सूचना मिली, जिसके बाद डीसीपी नवनाथ ढवले तालुका पुलिस स्टेशन में दर्ज गौ तस्करों की तलाश कर पकड़ने का निर्देश निजामपुरा पुलिस को दिया। जिसके बाद सीनियर पीआई नरेश पवार के निर्देश पर पुलिस निरीक्षक धनजय मारणे की टीम जांच में जुट गई और तकनीकी जांच व गुप्त सूचना पर स्थानीय कसाईवाड़ा निवासी उजैब शकील कुरेशी (१९) को हिरासत में लेकर जब पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। जिसे निजामपुर पुलिस ने तालुका पुलिस को सौंप दिया, जबकि शहर से फरार उसके दूसरे साथी की तलाश में पुलिस जुटी हुई है।

अन्य समाचार