मुख्यपृष्ठराजनीतिउत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर विपक्ष हमलावर

उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था पर विपक्ष हमलावर

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ
सप्ताह भर में घटी घटनाओं पर प्रदेश के विभिन्न राजनैतिक दलों ने निंदा की है। समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोविंद चौधरी ने कहा कि इस कानून व्यवस्था को सुशासन कहेंगे तो जंगलराज किसे कहेंगे। दलित महिला जो प्रदेश सरकार में राज्य मंत्री है उस हमला होना सरकार पर हमला है। जौनपुर का वायरल वीडियो बहुत शर्मनाक है। वीडियो में दबंग बेटी को जबरन उठा ले जा रहे हैं वह अपने आबरू और प्राण की भीख मांग रही है। भाजपा नेता स्वयं सुरक्षित नहीं हैं। कानून व्यवस्था को लेकर सरकार का दावा झूठा है। उन्होंने कहा कि जो सरकार तीन कार्यकाल से अपने राज्य में पूर्णकालिक पुलिस महानिदेशक नहीं दे पा रही है। वह राज्य के नागरिकों को सुरक्षा क्या प्रदान कर पाएगी।
कांग्रेस प्रवक्ता दीपक सिंह ने कहा कि यूपी में जंगलराज है। कानून व्यवस्था का दावा करने वाली पार्टी के नेताओं को गोलियों से भूना जा रहा है। अहंकारी सरकार इस सत्य को स्वीकार करने से भाग रही है। हर वर्ग के लोग त्रस्त हैं, जनता जाग गई है। 2024 में भाजपा का खाता नहीं खुलेगा। जैसे-जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आएगा, वैसे-वैसे भाजपा दंगा-फसाद की स्क्रिप्ट तैयार करेगी। रालोद के राष्ट्रीय मंत्री अनिल दुबे ने कहा कि पूरा प्रदेश जल रहा है सरकार जी-20 में व्यस्त है। निवेश के झूठे आंकड़े गढ़ने में कानून व्यवस्था में सुधार लाने की जगह बदतर हालात पैदा कर दी। जब प्रदेश में कोई सुरक्षित ही नहीं रहेगा तो निवेश कहां से आ आएगा। निवेश का दावा छलावा है।

अन्य समाचार