मुख्यपृष्ठनए समाचारमीरा-भायंदर में ‘ऑर्डर-ऑर्डर’!...न्यायालय के उद्घाटन का काउंटडाउन हुआ शुरू

मीरा-भायंदर में ‘ऑर्डर-ऑर्डर’!…न्यायालय के उद्घाटन का काउंटडाउन हुआ शुरू

•  सार्वजनिक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण का आदेश
•  बचे कार्य दिवाली तक पूरा कर अदालत होगी शुरू
विनोद मिश्र / भायंदर । मीरा-भायंदर शहर में जल्द ही माननीय न्यायाधीशों के ‘ऑर्डर-ऑर्डर’ की गूंज सुनाई पड़नेवाली है। शहर में बहुप्रतीक्षित न्यायालय की इमारत बनकर तैयार हो चुकी है और इसके उद्घाटन का काउंटडाउन शुरू हो गया है। राज्य के सार्वजनिक निर्माण मंत्री अशोक चव्हाण ने दिवाली से पूर्व इमारत के बचे कार्यों को पूर्ण कर इसे शुरू करने का आदेश दिया है।
बता दें कि मीरा-भायंदर शहर में पिछले कई वर्षों से रखड़ रहे न्यायालय की इमारत का कार्य पूर्ण कर इसे जल्द शुरू करने की मांग शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक ने अशोक चव्हाण से की थी। इसके बाद गत २३ मार्च को चव्हाण के दालान में इस विषय में एक बैठक का आयोजन किया गया था। इस बैठक में न्यायालय के प्रलंबित कार्यों की समीक्षा की गई, जिसमें अपर्याप्त निधि व न्यायाधीशों के निवास स्थान का कार्य पूर्ण नहीं होने की बात सामने आई। सरनाईक द्वारा इस प्रकरण में सतत प्रयत्न करने से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे व अर्थमंत्री अजीत पवार ने राज्य के चालू वित्तीय वर्ष के बजट में न्यायालय की इमारत के लिए १२ करोड़ और न्यायाधीशों के निवास इमारत के लिए ४.५ करोड़ रुपए का प्रावधान किया है। इससे अब प्रलंबित कार्यों को शीघ्र पूरा करने का मार्ग प्रशस्त हो गया है। इस बैठक में सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने आश्वासन दिया है कि मई माह में टेंडर प्रक्रिया पूरी कर दिवाली से पहले सभी कार्य पूरे कर लिए जाएंगे। साथ ही इस न्यायालय का भवन पूरी तरह तैयार होने के बाद वहां आवश्यक स्टाफ की व्यवस्था भी इसी दौरान उच्च न्यायालय से मंजूर करा ली जाएगी, ऐसा आश्वासन लॉ व ज्यूडिशियल विभाग के अधिकारियों ने भी दिया है। इस बीच मीरा-भायंदर मनपा आयुक्त दिलीप ढोले ने आश्वासन दिया कि दिवाली से पहले उक्त परिसर के नाले का निर्माण पूरा कर लिया जाएगा और यदि कोई अतिक्रमण हुआ है तो उसे हटा दिया जाएगा। इस बैठक में प्रधान सचिव (विधि और न्याय विभाग), सचिव (सार्वजनिक निर्माण विभाग), दिलीप ढोले (मनपा, आयुक्त), संबंधित विभाग के मुख्य अभियंता आदि उपस्थित थे।

अन्य समाचार