मुख्यपृष्ठनए समाचारकोरोना का धीमा पड़ा असर...अंग दान ने पकड़ी रफ्तार

कोरोना का धीमा पड़ा असर…अंग दान ने पकड़ी रफ्तार

• एक सप्ताह में आठ लोगों को मिला नया जन्म
सामना संवाददाता / मुंबई । मुंबई में कोरोना की तीसरी लहर अब धीमी पड़ने लगी है। इस लहर के धीमा पड़ते ही शहर में अंग दान मुहिम ने भी रफ्तार पकड़ ली है। इसी क्रम में बीते एक सप्ताह में दो लोगों द्वारा किए गए अंग दान से आठ लोगों को नया जीवन मिला है।
अंग दान के मामले में इस साल अच्छी शुरुआत
अंग दान के मामले में इस साल की शुरुआत अच्छी रही है। जेडटीसीसी ने संभावना जताई है कि पिछले साल की तुलना में इस साल अधिक अंग दान की उम्मीद है। इस महीने का पहला अंग दान चार मार्च को हुआ था। अकेले मार्च महीने में कुल छह अंग दान दर्ज किए जा चुके हैं। शुक्रवार को इस साल का ११वां और रविवार को १२वां अंगदान हुआ था।
५० वर्षीय पुरुष ने किया अंग दान
जानकारी के अनुसार इस साल अब तक कुल १२ अंग दान दर्ज किए गए हैं। २५ मार्च को मुलुंड के फोर्टिस अस्पताल में ५० साल के पुरुष ने अंग दान किया। अंगदाता ने अपने दिल, लीवर और आंखों को दान कर दिया। इसी तरह १२वें अंगदाता ४८ वर्षीय व्यक्ति ने फेफड़ा, लीवर और दोनों किडनी दान की हैं। इन दोनों के अंग दान से करीब आठ लोगों को नवजीवन मिला है। यह जानकारी जेडटीसीसी के समन्वयकों ने दी। समन्वयकों के मुताबिक इस साल अंग दान अभियान को अच्छा प्रतिसाद और गति मिल रही है। इन सभी अंगों को जेडटीसीसी के दिशा-निर्देशों के अनुसार वितरित किए जाते हैं।

अन्य समाचार