मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनासवाल हमारे... जवाब आपके !

सवाल हमारे… जवाब आपके !

पर्यावरण के लिए प्लास्टिक काफी नुकसानदायक है। मानसून के मौसम में पिछले सप्ताह मुंबई मनपा ने समुद्री किनारों से २०० टन कचरा साफ किया है। मुंबई के पर्यावरण को स्वच्छ रखने के लिए क्या मुंबईकरों को मनपा की इस स्वच्छता मुहिम के साथ हाथ नहीं बंटाना चाहिए?

स्वच्छता अभियान में हाथ बटाएं
स्वास्थ्य व स्वच्छता विभाग हर तरह से मुंबईकरों को गंदगी न करने की अपील कर रहा है। ऐसे नेक कार्य मेें सभी समुदाय का धर्म है कि स्वच्छता अभियान में हाथ बटाएं। पर लोगों का सहयोग नहीं मिल रहा है। इसका प्रमाण है कि मुंबई के समुद्री किनारे से २०० टन कचरा साफ किया गया है।
नगीना सिंह, बदलापुर

प्लास्टिक का उपयोग बंद करें
प्लास्टिक की थैली बरसात के मौसम में गटर और नालियां जाम हो जाने से बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है। प्लास्टिक की थैली का उपयोग नहीं करने के लिए सरकार द्वारा समय-समय पर जन जागरूकता अभियान भी चलाया जाता है, इसलिए आम जनता को भी स्वच्छता अभियान में सहयोग करना चाहिए और प्लास्टिक का उपयोग बंद कर देना चाहिए।
रमेश शर्मा, भायंदर

अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए
मुंबई सभी के लिए अन्नपूर्णा है। यदि हम इस अन्नपूर्णा को ही गंदा करेंगे तो आनेवाले समय में भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है, इसलिए मुंबई मनपा की स्वच्छता मुहिम में भाग लेकर सभी को अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए।
मंशा श्रीवास्तव, प्रसादपुर (यूपी)

स्वच्छता के लिए दूसरों को प्रेरित करें
स्वच्छ मुंबई-सुंदर मुंबई के अभियान में सभी को साथ देना होगा। हमारा कर्तव्य होना चाहिए कि हम घर की तरह ही अपनी मुंबई को भी स्वच्छ रखें और सभी को इसके लिए प्रेरित भी करें।
अभय त्रिपाठी, कल्याण

सजग हों मुंबईकर
जब तक मुंबईकर खुद प्लास्टिक के इस्तेमाल को नकारेंगे नहीं तब तक प्लास्टिक से होनेवाली समस्या बरकरार रहेगी, जब मनपा प्लास्टिक थैली के विरोध में मुहिम चलाती है तो कुछ दिनों के लिए प्लास्टिक बाजार से गायब हो जाता है, लेकिन फिर कुछ दिनों बाद लोग धड़ल्ले से प्लास्टिक की थैली का प्रयोग करने लगते हैं।
संजय सिंह, मीरा रोड

प्लास्टिक थैली को पूरी तरह से बैन करें
सरकार बार-बार लोगों को प्लास्टिक थैली का उपयोग न करने के लिए आगाह करती रहती है। वहीं दुकानदार,फेरीवाले  इससे बाज नहीं आ रहे, पर्यावरण को नुकसान पहुंचानेवाली प्लास्टिक थैलियों को पूरी तरह से बैन कर देना चाहिए।
अनिल यादव, नालासोपारा

स्वच्छ महाराष्ट्र-सुंदर महाराष्ट्र
मुंबई मनपा क्षेत्र ही क्यों अपने-अपने क्षेत्र की मनपा और नपा सहित ग्राम पंचायतों का क्षेत्र भी साफ रखने में प्रशासन को सहयोग करना चाहिए। इससे बीमारियां दूर होंगी और हम स्वच्छ महाराष्ट्र-सुंदर महाराष्ट्र का सपना भी पूरा कर सकेंगे।
अजीत सालुंखे, कल्याण

आज का सवाल?
मुंबई मनपा मुंबईकरों की सेवा के लिए हमेशा तत्पर रहती है। अब मनपा भांडुप जल शुद्धिकेंद्र की सुरक्षा दीवार तैयार कर पहले से और ज्यादा शुद्ध पानी लोगों को आपूर्ति करेगी। मुंबई मनपा के इस सराहनीय कार्य पर आपके क्या विचार हैं?
आप क्या सोचते हैं? तुरंत लिखकर भेजें या मोबाइल नं. ९३२४१७६७६९ पर व्हॉट्सऐप करें।

अन्य समाचार