मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनासवाल हमारे : जवाब आपके!

सवाल हमारे : जवाब आपके!

श्रीलंका की सरकार ने विवादास्पद चीनी जहाज को द्वीप पर आने की इजाजत दे दी है। श्रीलंकाई बंदरगाह पर पहुंचने के दौरान रास्ते में पड़नेवाले भारतीय प्रतिष्ठानों की जासूसी किए जाने की आशंकाओं को लेकर खुफिया विभाग ने चिंता जताई है। श्रीलंका के इस कदम से हिंदुस्थान की गोपनीयता भंग होगी। केंद्र सरकार की चुप्पी पर आपका क्या कहना है?

  • श्रीलंका से नाता तोड़ें 
    श्रीलंका ने चीन से महंगा लोन कर्ज स्वरूप लिया है। उसको लौटाने में वो असमर्थ है। इसी का नतीजा है कि चीन श्रीलंका का बंदरगाह प्रयोग में ला रहा है। जैसा कि हिंदुस्थान की खुफिया एजेंसी ने केंद्र  सरकार को जानकारी दी है कि चीन जासूसी कर रहा है। चीन हिंदुस्थान के साथ कभी भी घात कर सकता है। अत: हिंदुस्थान को चीन की तरह श्रीलंका से भी संबंध तोड़ने की जरूरत है।
    -शैलेश वडनेरे, बदलापुर
  • सतर्क रहने की जरूरत
    श्रीलंका से सतर्क रहने की जरूरत है। इसका प्रमुख कारण यह है कि श्रीलंका चीन का करीबी है। वह श्रीलंका के कारण हिंदुस्थान के समीप आ गया है। अब तो श्रीलंका के बंदरगाह तक चीन का आवागमन हो रहा है। यह हिंदुस्थान की सुरक्षा के लिए अच्छे संकेत नहीं हैं।
    -दीपक शुक्ला, अंबरनाथ
  • खतरे की घंटी
    श्रीलंका द्वारा चीन के गोपनीय जहाज को उसके बंदरगाह पर आने की इजाजत देना हिंदुस्थान के लिए खतरे की घंटी है। इस पर केंद्र सरकार की खामोशी देश की सुरक्षा के प्रति बड़ी लापरवाही सिद्ध हो सकती है। ५६ इंच के सीने की बात करनेवाले, पड़ोसी देशों की इन हरकतों पर कब कड़ा कदम उठाएंगे…?
    -संतोष मिश्रा, भायंदर
  • श्रीलंका से खतरा
    श्रीलंका कंगाल हो गया है। चीन श्रीलंका को आर्थिक सहायता करता है। उसके एवज में श्रीलंका चीन के जहाज को बंदरगाह तक आने से रोकता नहीं है। श्रीलंका के बंदरगाह तक चीन के जहाज को पहुंचने तक कई भारतीय प्रतिष्ठान बीच में हैं। भारतीय खुफिया एजेंसी ने चीन द्वारा खुफिया जासूसी करने की शंका व्यक्त की गई है, जो देश की सुरक्षा के लिए खतरा बड़ा खतरा है। हिंदुस्थान को मौन धारण करने की बजाय सख्त व सतर्क  रहने की आवश्यकता है।
    -अमित मिश्रा, उल्हासनगर
  • घर में घुसने का मौका
    चीन श्रीलंका के कंधे पर बंदूक रखकर हिंदुस्थान के हिस्से में अपनी जड़ को मजबूत कर रहा है। ऐसे ने केंद्र सरकार की चुप्पी चीनियों को घर में घुसने देने का मौका दे रही है।
    -नयन जोशी, नालासोपारा
  • भारत में घुसपैठ
    श्रीलंका के द्वीप के माध्यम से चीन निजी जहाज लेकर भारत में घुसपैठ कर रहा है। इस पर केंद्र की भाजपा सरकार का चुप्पी साधना चीनी जहाजों को न्यौता देने जैसा है।
    -उदय सिंह, नालासोपारा
  • आज का सवाल?
    रेलवे की लापरवाही दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है लेकिन रेल प्रशासन इसकी तरफ ध्यान नहीं दे रहा है। इसके चलते यात्रियों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। उदाहरण के तौर पर कलवा सहित कई स्टेशनों पर हॉल्ट होने के बावजूद फास्ट ट्रेनें रुकती नहीं हैं।
    आप क्या सोचते हैं? तुरंत लिखकर भेजें या मोबाइल नं. ९३२४१७६७६९ पर व्हॉट्सऐप करें।

अन्य समाचार