मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनासवाल हमारे:जवाब आपके!

सवाल हमारे:जवाब आपके!

बेतहाशा बढ़ती महंगाई तथा बेरोजगारी से जनता कराह रही है। पिछले महीने में बेरोजगारों के आंकड़ों में २० लाख की वृद्धि हुई है।केंद्र की दिशाहीन नीतियों से बेरोजगार युवाओं की संख्या रोज बढ़ रही है। केंद्र सरकार इस तरफ ध्यान क्यों नहीं दे रही है?

  • अंधी और बहरी केंद्र सरकार
    बेरोजगार युवाओं की संख्या प्रतिदिन बढ़ती जा रही है यह बात एक चिंता के विषय के साथ ही देश को आर्थिक रूप से खोखला साबित कर रही है। केंद्र सरकार मानों कान से बहरी और आंख से अंधी बनी हुई है।
    -शकील खान, मुंबई
  • ठोस कदम उठाने की जरूरत
    बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी इसके उदाहरण हैं, केंद्र सरकार जुमलेबाजी बंद कर रोजगार की समस्या को दूर करने के लिए ठोस कदम उठाए। अन्यथा बेरोजगारों के आंकड़े में बेतहाशा वृद्धि होगी।
    -सुधीर मिश्रा, भायंदर
  • केंद्र सरकार को सत्ता का नशा
    केंद्र सरकार सत्ता भोग में मतांध बनी हुई है। बेरोजगारी, महंगाई में हो रही बेतहाशा वृद्धि पर कोई ध्यान नहीं दे रहा। धार्मिक उन्माद भड़का कर सिर्फ अपनी राजनीतिक रोटी सेंक रही है। जो कि न तो देशहित में है और न ही जनहित में है।
    -मनीषा सी.पांडे, भायंदर
  • केंद्र जीएसटी वसूली में मशगूल
    केंद्र सरकार केवल जीएसटी के नाम पर तिजोरी भर रही है पर यहां तो देश की जनता बेरोजगारी के चलते परेशान होकर आत्महत्या करने को मजबूर है। हर महीने बेरोजगारी की दर लाखों में बढ़ रही है। जिसके चलते युवक नशे व अपराध की दुनिया में प्रवेश कर रहे हैं। इस गंभीर समस्या पर केंद्र सरकार को ध्यान देने की जरूरत है।
    -विनोद परिहार, उल्हासनगर
  • उदासीन मोदी सरकार
    देश की सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी तथा महंगाई पर मोदी सरकार का रुख बेहद उदासीन है। इसका खामियाजा आम नागरिकों तथा युवाओं को भुगतना पड़ रहा है। बढ़ती बेरोजगारी और महंगाई से लोगों में असंतोष का माहौल बना हुआ है।
    -बी पी शर्मा, कलवा
  • असफल हुई केंद्र सरकार
    बेरोजगारी खत्म करने की बात कर सत्ता प्राप्त करनेवाली केंद्र सरकार रोजगार देने में असफल साबित हुई है। डिजटल इंडिया का नारा भी शिगूफा साबित हुआ है।
    -प्रांशी श्रीवास्तव, कल्याण
  • गलत नीतियों से बढ़ी बेरोजगारी
    स्व-रोजगार का झुनझुना थमा कर रोजगार छीननेवाली केंद्र सरकार युवाओं को रोजगार देने में फेल साबित हुई है, गलत नीतियां इसके लिए जिम्मेदार हैं।
    -प्रतीक श्रीवास्तव, मरवट (यूपी)
  • आज का सवाल?
    केंद्र सरकार की गलत नीतियों के चलते हिंदुस्थान में आए दिन आतंकी घुसपैठ होती रहती है। सरकार इस पर कोई ठोस कदम नहीं उठाती उलटे अन्य मामले उठा कर लोगों को भ्रमित करती रहती है। लचर नीतियों के कारण ही देश असुरक्षित होता जा रहा है।
    आप क्या सोचते हैं? तुरंत लिखकर भेजें या मोबाइल नं. ९३२४१७६७६९ पर व्हॉट्सऐप करें।

अन्य समाचार