मुख्यपृष्ठखेलआउट ऑफ पैवेलियन : एनर्जेटिक प्लेयर

आउट ऑफ पैवेलियन : एनर्जेटिक प्लेयर

अमिताभ श्रीवास्तव।  सिर्फ एक मैच में ही नहीं बल्कि यह तो मानना पड़ेगा कि विराट कोहली जैसा कोई ऐसा प्लेयर नहीं है जो मैच के प्रारंभ से लेकर अंत तक एक जैसा रहे। उतना ही एनर्जेटिक जितना वो शुरुआत में होता है। शायद यही वजह भी है कि पहली बार ऐसा इनाम भी कोहली को मिला। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विराट कोहली आखिरी ओवर में ४८ गेंदों में ६३ रन बनाकर आउट हुए। तब तक टीम जीत के मुहाने पर पहुंच चुकी थी। कोहली जैसे स्टार बल्लेबाज जोश से खेलते हैं और कई बार जोश में ही खो जाते हैं। मैच के बाद प्रेजेंटेशन समारोह में भी विराट जीवंत दिखाई दिए। ऐसा उन्हें पहले कभी नहीं देखा गया। वे अपने साथियों के पास खुश नजर आए और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (आरसीबी) टीम के साथी खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल के साथ हंसी-मजाक करते दिखे। विराट को एनर्जेटिक प्लेयर ऑफ द मैच का भी खिताब दिया गया। कोहली में जोश खरोश दोनों है और इसी वजह से कई बार वो विवादित भी हो जाते हैं। मगर इससे भी कोई फर्क नहीं पड़ता कोहली को, वो जैसा स्वभाव है वैसे ही रहते हैं।

रहम कर रहकीम
क्रिकेट में जब गेंदबाज उससे रहम की भीख मांगते देखे गए क्योंकि वो जितना भारी भरकम कद-काठीवाला है, उतना ही गेंदबाजों के लिए कहर बरपाने वाला भी। वैâरेबियन प्रीमियर लीग चल रही है जिसमें एक विशालकाय खिलाड़ी रहकीम कॉर्नवाल सबसे ज्यादा सुर्खियों में है। ६ फीट ५ इंच के इस वैâरेबियाई क्रिकेटर पर मोटापा हावी है। वजन है तकरीबन १४० किलो का लेकिन दिखने में मोटा और भारी-भरकम ये खिलाड़ी खेलने में तगड़ा और गेंदबाजों के लिए बेरहम है। पिछले दिनों रहकीम कॉर्नवाल ने जो किया है वो जान लीजिए। वैâरेबियन प्रीमियर लीग यानी सीपीएल २०२२ में क्वालिफायर वन का मुकाबला था। आमने-सामने बारबाडोस रॉयल्स और गयाना अमेजन वॉरियर्स की टीम थी। इस मुकाबले में रहकीम बारबाडोस रॉयल्स का हिस्सा थे। इस रहकीम ने ओपनिंग की और पारी शुरू करते हुए ऐसी विध्वंसक पारी खेली कि सब देखते रह गए। उसमें एक, दो या तीन नहीं पूरे ११ छक्के शामिल रहे। इन ११ छक्कों की बदौलत उन्होंने ७४ रन तो सिर्फ १३ गेंदों में ही ठोक दिए। यहां १३ गेंदों से मतलब उन बाउंड्रीज से है जो रहकीम के बल्ले से उनकी पूरी इनिंग में निकले। उन्होंने ११ तो सिर्फ छक्के मारे फिर २ चौके लगाए, जिसका कुल योग ७४ होता है।

तोहफे में होर्डिंग
भला होर्डिंग भी कोई तोहफा होता है! मगर यहां है। जी हां, स्टेडियम के बाहर रोहित शर्मा का काफी बड़ा होर्डिंग लगाया गया है। रोहित इस होर्डिंग में अपना बल्ला अपने कंधे पर रखे खड़े हैं। टीम इंडिया के कप्तान का ये होर्डिंग इतना बड़ा है कि लोग इसे दूर से ही देख सकते हैं और पहचान सकते हैं। रोहित के इस होर्डिंग की फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। और बताया गया कि ये हिटमैन के लिए एक तोहफा स्वरूप है। उनका सम्मान ही उनके लिए भावनाओं का तोहफा है। दरअसल ऐसा होर्डिंग ग्रीनफील्ड स्टेडियम के बाहर सिर्फ रोहित का ही नहीं उनसे पहले विराट कोहली का भी लगा है। ये होर्डिंग भी रोहित के होर्डिंग के जितना बड़ा दिखाई देता है। मगर कोहली की होर्डिंग ग्रीनफील्ड स्टेडियम के प्रâंट गेट के बाहर लगा है। दोनों खिलाड़ी टीम इंडिया की जान हैं और इन्हीं दोनों के प्रदर्शन पर टिका है आसन्न वर्ल्डकप का जीतना।

गेंदबाज का संन्यास
यह किसी भी खिलाड़ी की इच्छा होती है कि पूरे करियर में कम से कम एक बार तो देश की टीम से खेलने का मौका मिले। मगर क्रिकेट ऐसा खेल है जहां यदि एक खिलाड़ी टीम में शामिल होता है तो ५० खिलाड़ी बाहर इंतजार में ही बूढ़े हो जाते हैं। अब देखिए न उन्हीं में से एक तेज गेंदबाज अनुरीत सिंह ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का एलान कर दिया है। अनुरीत को टीम इंडिया के लिए डेब्यू करने का मौका नहीं मिला लेकिन आईपीएल में उन्होंने अपनी गेंदबाजी से एक अलग छाप छोड़ी थी। अनुरीत ने अपने घरेलू क्रिकेट में बड़ौदा, सिक्किम और रेलवे के लिए खेले। अनुरीत साल २००८ से लेकर साल २०२१ तक घरेलू क्रिकेट में अपनी भागीदारी देते रहे थे। इस दौरान उन्होंने  ७२ फर्स्ट क्लास, ५६ लिस्ट-ए और ७१ टी-२० मैच खेले। अपने करियर में अनुरीत ने २४९ फर्स्ट क्लास विकेट चटकाने में सफलता हासिल की और साथ ही लिस्ट ए में उन्होंने कुल ८५ शिकार अपने नाम करने में सफलता पाई, वहीं टी-२० में अनुरीत ने अपने नाम कुल ६४ विकेट किए। आईपीएल में अनुरीत पंजाब किंग्स, केकेआर और राजस्थान रॉयल्स की ओर से अपनी उपस्थिति दर्ज कराई, आईपीएल में उनके नाम १८ विकेट दर्ज है। तेज गेंदबाज ने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर अपनी बात लिखी।

अन्य समाचार