मुख्यपृष्ठखेलआउट ऑफ पैवेलियन : दूसरे जत्थे में हिटमैन

आउट ऑफ पैवेलियन : दूसरे जत्थे में हिटमैन

अमिताभ श्रीवास्तव 

दूसरे जत्थे में हिटमैन
फिजूल का बवाल मचाकर रखा गया है। क्रिकेट जगत में रोहित शर्मा के इंग्लैंड गए खिलाड़ियों के साथ न होना मीडिया के लिए बवाल मचाने जैसा था, जो मचाया भी गया। मगर ये सब फिजूल था क्योंकि जरूरी नहीं होता कि सारे खिलाड़ी एक साथ जाएं। इंग्लैंड के दौरे के लिए अभी सिर्फ ११ खिलाड़ी ही रवाना हुए हैं। मामला कुछ यूं है कि हिंदुस्थान टीम और दक्षिण अफ्रीका  के बीच इस समय पांच मैचों की टी-२० सीरीज खेली जा रही है। इंग्लैंड में एकमात्र टेस्ट मैच के लिए जिन खिलाड़ियों का चयन हुआ है, उसमें से कुछ खिलाड़ी दक्षिण अफ्रीकी  सीरीज में शामिल हैं, जो ११ खिलाड़ी इंग्लैंड के लिए रवाना हो चुके हैं, वो इस सीरीज का हिस्सा नहीं है। रोहित शर्मा हाल ही में अपनी फॅमिली  के साथ छुट्टियां मनाने गए थे। इस वजह से ही वो पहले दल के साथ इंग्लैंड नहीं गए। रोहित शर्मा २० जून को जानेवाले दूसरे दल के साथ इंग्लैंड रवाना होंगे। दक्षिण अफ्रीका और हिंदुस्थानी टीम के बीच अंतिम टी-२० मैच १९ जून को होगा। २० जून को रोहित शर्मा बाकी खिलाड़ियों ऋषभ पंत, श्रेयस अय्यर और टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ के साथ जाएंगे।
हॉलैंड का बना हलवा
ये हलवा नहीं तो क्या है? इतनी बुरी तरह धोया कि बेचारी नई नवेली क्रिकेट टीम अपने भविष्य में पैर जमाने के लिए दस बार सोचेगी। बनाया तो कुरमा था अंग्रेजों ने, मगर बन गया हलवा। मेहमान इंग्लैंड ने मेजबान हॉलैंड के खिलाफ शुरू हुई तीन वनडे मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में मेजबान बॉलरों की बखिया उधेड़ते हुए वनडे इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर खड़ा कर दिया। इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने न्योता पाकर पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर ४९८ का स्कोर खड़ा किया। या कहें कि वनडे इतिहास में पहली बार पांच सौ का आंकड़ा बस बाल-बाल बच गया। इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने बल्ले से जमकर कहर मचाया। उसके लिए फिल सॉल्ट (१२२), डेविड मलान (१२५), जोस बटलर (नाबाद १६२ रन) और लिविंगस्टोन (६६) ने आतिशी बल्लेबाजी की लेकिन जोस बटलर ने तो हॉलैंड के बॉलरों का हलवा ही बना दिया। बटलर ने भी बड़ा रिकॉर्ड बनाया लेकिन वो इतनी बेहतरीन पारी के बावजूद थोड़े से ज्यादा मलाल के साथ वापस लौटे होंगे।
पता नहीं मैं खेलूंगा या नहीं!
ये विचार हैं दुनिया के स्टार टेनिस खिलाड़ी राफेल नडाल के। हाल ही में फ्रेंच  ओपन जीतकर रिकॉर्ड बनानेवाले राफेल  नडाल विंबल्डन खेल पाएंगे या नहीं इस पर सवाल है। २२ बार के ग्रैंड स्लैम विजेता नडाल के पैरों में चोट है। उन्होंने विंबल्डन खेलने की इच्छा तो जताई है, मगर पता नहीं है कि वो खेल पाएंगे भी या नहीं। नडाल ने कहा कि मेरी बहुत इच्छा है विंबल्डन खेलने की। मेरा शरीर कैसा  रहता है, सब कुछ बस इसी बात पर निर्भर है। हालांकि, पिछले एक सप्ताह से मुझे दर्द नहीं हो रहा है और मैं अभ्यास भी कर रहा हूं। इससे मेरा विंबल्डन में खेलने की उम्मीद तो बढ़ गई है। फ्रेंच  ओपन भी वो इंजेक्शन लगाकर खेले थे, ऐसा खुद उन्होंने बताया था। अब वो पूरी तरह फिट होकर ही कोर्ट में उतरना चाहते हैं।
१६ साल बाद
ऐसा संभव है। ये हो सकता है और यदि होता है तो कोई बुराई भी नहीं। दरअसल, हिंदुुस्थान और पाकिस्तान के खिलाड़ी एक बार फिर एक ही टीम में एक साथ खेलते दिखाई दे सकते हैं। हालांकि, दोनों देशों के बीच २०१२-१३ के बाद से द्विपक्षीय शृंखला नहीं खेली गई है, जबकि २००७ के बाद से टेस्ट शृंखला में आमने-सामने नहीं आए हैं। अगर सब कुछ ठीक रहा तो हिंदुुस्थान और पाकिस्तान के क्रिकेटरों को २०२३ के मध्य में एफ्रो -एशिया कप के रीबूट सीजन में टीम में खेलते हुए देखा जा सकता है। एफ्रो -एशिया कप २००५ और २००७ के बाद नहीं खेला गया। दोनों टीमें अब केवल एक-दूसरे का सामना आईसीसी टूर्नामेंट में करती हैं। हिंदुस्थान और पाकिस्तान के खिलाड़ी जून-जुलाई २०२३ में टी-२० प्रारूप में वापसी करनेवाले एफ्रो -एशिया कप के साथ एक ही टीम में खेल सकते हैं। इस बारे में कुछ भी पुष्टि नहीं की गई है कि टूर्नामेंट कब और कहां होगा?

अन्य समाचार