मुख्यपृष्ठखेलआउट ऑफ पैवेलियन : तेरी याद आई

आउट ऑफ पैवेलियन : तेरी याद आई

अमिताभ श्रीवास्तव

तेरी याद आई
ये वो रेस्टारेंट हैं जहां यादें बिखरी हुई हैं और जो मास्टर ब्लास्टर को गमगीन कर देती हैं। किसकी याद है? और सचिन तेंदुलकर को क्यों आई याद? ये याद है महान लेग स्पिनर शेन वार्न की। सचिन ने सोशल मीडिया पर एक फोटो चिपकाया जो शेन वार्न की यादों से लबरेज था। जी हां, ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वार्न को दुनिया छोड़े तीन महीने से ज्यादा का समय हो चुका है लेकिन अभी वह क्रिकेट दिग्गजों के जहन में जिंदा हैं। इसी क्रम में सचिन तेंदुलकर ने शेन वार्न से संबंधी एक पोस्ट सोशल मीडिया पर पोस्ट की है। सचिन ने इंस्टाग्राम पोस्ट डालकर लंदन के एक रेस्टोरेंट में शेन के साथ खाना खाने के समय को याद किया। उन्होंने अपनी फोटो शेयर कर लिखा- जब मैं इस रेस्टोरेंट में खाना खाने बैठा तो वॉर्न की याद आ गई। मैं और वॉर्न जब भी इंग्लैंड में होते थे तो इसी रेस्टोरेंट में रुका करते थे।
रूट नंबर वन
टेस्ट क्रिकेट की ये हलचल है जिसमें अंग्रेज बाजी मार रहे हैं। अब देखिए न, इंग्लैंड के बल्लेबाज जो रूट न्यूजीलैंड के खिलाफ चल रही आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप शृंखला में लगातार दो शतक लगाने के बाद आईसीसी टेस्ट प्लेयर रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर वापस आ गए हैं। रूट पहले टेस्ट के बाद मार्नस लाबुस्चागने के बराबर पहुंच गए थे, लेकिन दूसरे टेस्ट के बाद उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज से शीर्ष स्थान वापस छीन लिया, जिससे वे अब पांच रेटिंग अंक से आगे हैं। आईसीसी के अनुसार, नॉटिंघम टेस्ट की पहली पारी में १७६ रन की पारी के बाद रूट के ८९७ अंक हैं, जो उनके सबसे ज्यादा ९१७ अंकों से २० कम है। रूट ने पहली बार अगस्त २०१५ में नंबर एक स्थान हासिल किया था और दिसंबर २०२१ में शीर्ष पर थे, इससे पहले लाबुस्चागने ने उन्हें छलांग लगा दी थी। रूट अब तक १६३ दिनों के बाद टेस्ट में नंबर १ हैं। स्टीव स्मिथ (१,५०६ दिन), विराट कोहली (४६९ दिन) और केन विलियमसन (२४५ दिन) अन्य हैं, जिन्होंने हाल के वर्षों में शीर्ष पर समय बिताए हैं।
नेत्रहीन ने तोड़ा हिटमैन का रिकॉर्ड
बताइए क्रिकेट विश्व में बना हुआ एक रिकॉर्ड कोई तोड़ सका तो वो एक नेत्रहीन बल्लेबाज। जी हां, रोहित शर्मा का बनाया गया रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के एक नेत्रहीन खिलाड़ी ने तोड़ दिया। ऑस्ट्रेलियाई नेत्रहीन क्रिकेट टीम के सलामी बल्लेबाज स्टीफन नीरो ने यह कारनामा कर दिखाया। जब उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ नेत्रहीन वनडे इंटरनेशनल मैच में ३०९ रनों की शानदार पारी खेली। ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज स्टीफन नीरो द्वारा बनाया गया यह नेत्रहीन क्रिकेट इतिहास में सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर है। नीरो ने १४० गेंदों में ३०९ रनों की शानदार पारी खेली है। वैसे देखा जाए तो एक तरीके से रोहित शर्मा का २६४ रनों का रिकॉर्ड टूट गया है लेकिन यह रिकॉर्ड नेत्रहीन क्रिकेट में बना है तो रोहित शर्मा का रिकॉर्ड अभी भी सुरक्षित है। जो भी हो पर नीरो के लिए यह ऐतिहासिक पल था। अब माना जा रहा है कि नीरो का रिकॉर्ड कोई तोड़ सकेगा, ऐसा संभव नहीं लगता।
तेवतिया को नहीं लिया
एक और जानदार खिलाड़ी की प्रतिभा जाया होने जा रही है। टीम इंडिया में जगह बनाना यूं तो बहुत कठिन हैं मगर राहुल तेवतिया एक ऐसा नाम है जिसका सिलेक्शन कम से कम आयरलैंड के खिलाफ तो टीम में होना ही चाहिए था। जो नहीं हुआ। हार्दिक पांड्या की कप्तानी में सूर्यकुमार और राहुल त्रिपाठी को जरूर टीम में रखा किंतु तेवतिया को नहीं। आयरलैंड के खिलाफ दो मैचों की टी-२० सीरीज में राहुल तेवतिया का सिलेक्शन नहीं होने पर उन्होंने ट्वीट कर अपने इमोशन बयां किए। उन्होंने लिखा ‘उम्मीदें आहत हुई है।’ राहुल तेवतिया पिछले कुछ सालों से राजस्थान रॉयल्स के लिए आईपीएल खेला करते थे। जिसमें एक मैच में उन्होंने ५ छक्के एक ओवर में लगाए थे। उनके इसी खेल को देखते हुए इस बार उन्हें गुजरात टाइटंस की टीम ने अपने खेमे में शामिल किया था और उन्होंने गुजरात टाइटंस के लिए कई मैचों में फिनिशर की भूमिका भी निभाई। इस सीजन उन्होंने १६ मैचों में २१७ रन बनाए थे और पूरी उम्मीद थी कि वो टीम में चुने जाएंगे पर ऐसा नहीं हुआ।

अन्य समाचार