मुख्यपृष्ठखेलआउट ऑफ पैवेलियन... आया, आया मलिंगा आया

आउट ऑफ पैवेलियन… आया, आया मलिंगा आया

अमिताभ श्रीवास्तव। जरूरी नहीं कि कोई खिलाड़ी खेल कर ही अपना रौब जमाए। वह कोचिंग देकर भी जमा सकता है। जी हां, क्रिकेट के यार्कर किंग रहे लसिथ मलिंगा की वापसी हो चुकी है। यूं तो संन्यास ले चुके मलिंगा को मैदान पर देख पाना कठिन था, मगर राजस्थान रॉयल्स ने मलिंगा को अपने खेमे में बुला लिया है। राजस्थान प्रâेंचाइजी ने आगामी सीजन के लिए ३८ वर्षीय पूर्व श्रीलंकाई तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा को अपनी टीम का बॉलिंग कोच नियुक्त किया है। लसिथ मलिंगा ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई श्रीलंकाई टीम का बतौर बॉलिंग कोच मार्गदर्शन किया था। यही नहीं उन्हें आईपीएल में एक लंबे समय तक आईपीएल की सबसे सफल टीम मुंबई इंडियंस के साथ खेलने का अनुभव है। मलिंगा ने आईपीएल में साल २००९ से २०१९ के बीच कुल १२२ मैच खेलते हुए १२२ पारियों में १९.७९ की एवरेज से १७० विकेट चटकाए हैं। इस दौरान उन्होंने एक बार पांच और छह बार चार विकेट लेने का भी कारनामा किया है।

शतक वीरांगना
विजयी रथ पर सवार होकर वेस्टइंडीज की महिला सेना को हिंदुस्थानी टीम ने न केवल धूल चटाई बल्कि उसकी दो वीरांगनाओं के बल्ले से शतक भी निकले। अब तक का सबसे बड़ा लक्ष्य हिंदुस्थानी टीम ने विश्वकप में दिया। वैâरेबियन महिलाओं के सामने ३१७ रनों का विशाल पहाड़ रखने में स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत के बल्ले ने कमाल दिखाया। दोनों बल्लेबाजों ने दो-दो छक्कों के साथ क्रमश: १३ चौके और १० चौके जड़े। स्मृति ने १२३ और हरमनप्रीत ने १०९ रन बनाए। इन दोनों बल्लेबाजों के बाद तीसरी बड़े स्कोर वाली खिलाड़ी सिर्फ भाटिया रही, जिसने ३१ रन का योगदान दिया। कुल मिलाकर कल वेस्टइंडीज टीम केवल मंधाना और हरमनप्रीत के खिलाफ ही लड़ रही थी, ऐसा लगा और दोनों ने ही पूरी वैâरेबियन टीम को पसीना ला दिया। हरमनप्रीत का चौथा और विश्वकप में तीसरा शतक है। उन्होंने १०० गेंदों में ही शतक लगाया। वो विश्वकप में तीन शतक लगाने वाली हिंदुस्थानी टीम की पहली खिलाड़ी बन गई हैं। उधर स्मृति मंधाना ने वनडे क्रिकेट में अपना ५वां शतक ठोका। यह वेस्टइंडीज के खिलाफ उनका दूसरा शतक है। पिछले विश्वकप में भी उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ ही शतक लगाया था।

मिताली का रिकॉर्ड
वैसे तो इतना अधिक क्रिकेट खेल चुकी हैं मिताली राज कि अब बल्ला पकड़ते ही कोई न कोई रिकॉर्ड बन जाता है। भले बल्ले से रन न निकले, भले जीरो पर आउट हो जाएं या भले ही बस मैदान पर चहल कदमी करने उतरें, एक न एक रिकॉर्ड तो मिताली के खाते में जुड़ ही जाता है। अब देखिए न वेस्टइंडीज के खिलाफ यूं तो फ्लॉप रहीं मगर बतौर कप्तान जैसे ही मैदान पर उतरीं एक रिकॉर्ड बना लिया। वो अब महिला विश्वकप में सबसे ज्यादा मैचों में कप्तानी करने वाली खिलाड़ी बन चुकी हैं। उन्होंने इस मामले में ऑस्ट्रेलिया की पूर्व कप्तान बेलिंडा क्लार्क का रिकॉर्ड तोड़ा। बेलिंडा क्लार्क ने २३ मैचों में कप्तानी की थी। मिताली महिला विश्वकप में २४वीं बार बतौर कप्तान मैदान में उतरीं। इससे पहले उनकी कप्तानी में २३ मैचों में हिंदुस्थान ने १४ जीते हैं और आठ मैचों में उसे हार का सामना करना पड़ा है, वहीं एक मैच बेनतीजा रहा है। यह उनका आखिरी विश्वकप भी हो सकता है। मिताली वनडे में दुनिया की सबसे ज्यादा रन बनाने वाली बल्लेबाज हैं। मिताली २२७ वनडे की २०६ पारियों में ७,६६३ रन बना चुकी हैं, इसमें सात शतक और ६२ अर्धशतक शामिल है।

केकेआर को मिला फिंच
एक हटा तो दूसरा आया। दूसरा पहले वाले से दमदार है। जी हां, केकेआर की टीम की यही कहानी है। ऑस्ट्रेलिया के सीमित ओवरों की टीम के कप्तान आरोन फिंच कोलकाता नाइट राइडर्स के साथ जुड़ गए हैं। इंडियन प्रीमियर लीग २०२२ के लिए टीम ने फिंच को इंग्लैंड के बल्लेबाज एलेक्स हेल्स के स्थान पर अपने साथ जोड़ा है। हेल्स ने बायो-बबल की थकान का हवाला देते हुए इस लीग से हटने का पैâसला किया था। फिंच को फरवरी में हुई आईपीएल नीलामी में किसी टीम ने नहीं खरीदा था। उनका बेस प्राइस १.५ करोड़ रुपए था। वो इसी कीमत पर दो बार की चैंपियन टीम के साथ जुड़ेंगे। फिंच के रिकॉर्ड की बात करें तो उन्होंने ८८ टी-२० इंटरनेशनल मुकाबलों में २,६८६ रन बनाए हैं। इसमें उन्होंने दो शतक और १५ अर्धशतक लगाए हैं। कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम बीते साल आईपीएल के फाइनल में पहुंची थी। खिताबी मुकाबले में उसे चेन्नई सुपर किंग्स के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। इस साल के आईपीएल की शुरुआत इन्हीं दोनों टीमों के बीच मुकाबले से होगी। यह मैच २६ मार्च को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा।

अन्य समाचार