मुख्यपृष्ठखेलआउट ऑफ पैवेलियन : द हंड्रेड का डेंजर मैन

आउट ऑफ पैवेलियन : द हंड्रेड का डेंजर मैन

  • अमिताभ श्रीवास्तव

द हंड्रेड का डेंजर मैन
उसे डेंजर मैन ही कहेंगे जो गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाने में व्यस्त है। जी हां, इंग्लैंड में जारी द हंड्रेड टूर्नामेंट का १३वां मैच नॉर्दर्न सुपरचार्जर और लंदन स्पिरिट के बीच खेला गया। इस मैच में ग्लेन मैक्सवेल और फाफ डुप्लेसी जैसे दिग्गज मैदान पर उतरे जो किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं और उन्होंने मैच में अपने परिचित अंदाज में गेंदबाजों की धज्जियां उड़ाई लेकिन इसके बावजूद घरेलू क्रिकेटर एडम रॉसिंग्टन महफिल लूट ले गए। एडम रॉसिंग्टन ने मैच में द हंड्रेड के इतिहास का सबसे तेज पचासा जड़कर सनसनी मचा दी। १०० गेंद के इस मुकाबले में लंदन स्पिरिट के लिए एडम रॉसिंग्टन ने महज १५ गेंद में ५० रन बना लिए। उनकी कुल पारी ६६ रनों की रही, जिसमें उन्होंने २५ गेंदों का सामना करते हुए ७ छक्के भी लगाए। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट २६४ का था। रॉसिंग्टन की धमाकेदार पारी के बदौलत ही लंदन की टीम नॉर्दन सुपरचार्जर को ७ विकेट से हरा दिया।
जडेजा का तलाक
न न शीर्षक पढ़कर कहीं उस तलाक को मत सोचने लग जाना। वैसा कुछ भी नहीं है और न कभी होगा। दरअसल ये तलाक है चेन्नई सुपरकिंग से। जी हां, संभव है रवींद्र जडेजा सीएसके से अलग हट जाएं। ऐसे सारे संकेत मिल रहे हैं कि चेन्नई सुपरकिंग से जडेजा तलाक ले लेंगे यानी अलग हो जाएंगे। क्योंकि ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच का मतभेद कम होने का नाम नहीं ले रहा है। जडेजा चेन्नई सुपर किंग्स से पूरी तरह कट चुके हैं और फ्रेंचाइजी के साथ वे किसी तरह से संपर्क में नहीं हैं। चार बार की चैंपियन सीएसके की टीम अपने खिलाड़ियों को एक परिवार की तरह मानती आई है। टीम हर तरह से खिलाड़ियों के सपोर्ट में रहती है लेकिन सीजन-१५ में अंदरूनी मतभेद के कारण अब जडेजा सीएसके से अलग होने का मन बना चुके हैं। विदेशी दौरे से वापस आने के बाद जडेजा बंगलुरु में एनसीए में रिहैब के लिए गए हैं लेकिन इस दौरान वे सीएसके के साथ किसी तरह का कोई संपर्क नहीं साधा।
‘इनोसेंट’ बयान
वैसे ये कोई स्वप्न देखने जैसी बात है मगर जिंबाब्वे के खिलाड़ी की माने तो टीम इंडिया सीरीज हारेगी। १८ अगस्त से शुरू होनेवाली तीन मैचों की वनडे सीरीज से पहले जिंबाब्वे के एक इनोसेंट खिलाड़ी इनोसेंट काइया ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि इस सीरीज में जिंबाब्वे अच्छा प्रदर्शन करेगी और टीम इंडिया को कड़ी टक्कर मिलती हुई दिखाई देगी। लगभग ६ साल बाद हिंदुस्थानी क्रिकेट टीम जिंबाब्वे के दौरे पर है। आखिरी बार साल २०१६ में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में हिंदुस्थानी टीम जिंबाब्वे के दौरे पर थी। तीन मैचों की वनडे सीरीज शुरू होने से पहले जिंबाब्वे के बल्लेबाज इनोसेंट काइया ने कहा है कि जिंबाब्वे की टीम केएल राहुल की कप्तानी में भारतीय टीम को २-१ से हराएगी। साथ ही उन्होंने कहा है कि इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करके आईपीएल में वह कॉन्ट्रैक्ट हासिल करना चाहेंगे।
राहुल ने गिल को गिराया
ये गिराना ही तो हुआ। ऊपर से नीचे। ओपनिंग से तीसरे नंबर पर। जी हां, केएल राहुल ने शुभमन गिल को ओपनिंग से गिराकर तीसरे नंबर पर खड़ा कर दिया है। ऐसा ही दिखेगा एशिया कप में। इस कप से पहले जिंबाब्वे वनडे सीरीज के लिए फिट हो जाना केएल राहुल को काफी फायदा देगा। वे अपनी लय परख सकते हैं। आगामी मैचों में शिखर धवन के साथ पारी का आगाज कर सकते हैं। यह लगभग निश्चित है कि लक्ष्मण मुख्य कोच द्वारा निर्धारित खाके का पालन करेंगे। राहुल की वापसी ने शीर्ष क्रम के युवा बल्लेबाज गिल के लिए भी मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। गिल ने वेस्टइंडीज में ५० ओवरों के प्रारूप में शानदार बल्लेबाजी की। वह ६४, ४३ और नाबाद ९८ रन की मैच जिताऊ पारियों के बाद मैन ऑफ द सीरीज बने थे। मगर ज्बिंाब्वे में ऐसा नहीं होगा।

अन्य समाचार