मुख्यपृष्ठखेलआउट ऑफ पैवेलियन : ८०० के शिखर पर धवन

आउट ऑफ पैवेलियन : ८०० के शिखर पर धवन

  • अमिताभ श्रीवास्तव

८०० के शिखर पर धवन
विराट कोहली के हर रिकॉर्ड ध्वस्त हो रहे हैं। कारण है उनका फार्म में न होना। अब देखिए न, वेस्टइंडीज का सूपड़ा साफ करनेवाले टीम इंडिया के कार्यवाहक कप्तान शिखर धवन ने उनके चौके लगानेवाली रिकॉर्ड तोड़ दिया और शिखर पर जा पहुंचे। आखिरी वन डे में धवन ने शुरुआत में ही दो चौके लगाकर अपने करियर में एक बहुत बड़ी उपलब्धि हासिल कर ली है। उन्होंने अपने वनडे करियर में ८०० चौके पूरे कर लिए हैं। इसके अलावा उन्होंने टीम इंडिया के दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली का भी एक खास रिकॉर्ड तोड़ दिया है। धवन हमेशा से वनडे क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते आ रहे हैं। ८०० चौके लगाने के मामले में अब वो टॉप-१० की लिस्ट में आ चुके हैं। शिखर धवन ने अभी टीम इंडिया के लिए १५४ मैचों की १५१ पारियों में ६,४३५ रन बनाए हैं। इस दौरान उनके बल्ले से ७९८ चौके और ७७ सिक्स जड़े हैं। वेस्टइंडीज के खिलाफ ये आंकड़ा अब बदल गया है। दो चौके लगाते ही उनके ८०० चौके पूरे हो गए। शिखर धवन ये कारनामा करने वाले ९वें हिंदुस्थानी खिलाड़ी हैं।
वो विराट कहां खो गया?
कभी विराट कोहली ने कहा था वो सचिन तेंदुलकर को पकड़ लेंगे। जी हां, उनके शतकों के मामले में। ९ शतक के बाद उस वक्त २४ साल के विराट ने ये बात कही थी। मगर अब कोई ७-८साल हो गए विराट की बात पूरी नहीं होती दिखती। आखिर कहां खो गए पहले वाले विराट। हालांकि कहा जा रहा है कि विराट अपने फार्म में लौट आएंगे। वो मानसिक रूप से मजबूत हैं मगर फिलहाल अस्थिर हैं। वैसे ये भी माना जा रहा है कि विराट भले ही सचिन तेंदुलकर से ज्यादा पीछे न हों मगर वो उन्हें पीछे नहीं कर पाएंगे। यूं तेंदुलकर के बाद कोहली के नाम सभी फॉर्मेट में सबसे ज्यादा २० अंतरराष्ट्रीय शतक दर्ज है। मौजूदा दौर में कोहली ही वो बल्लेबाज हैं जो रिकॉर्ड के मामले में सचिन से आगे जा सकते हैं। फिलहाल ४३ वनडे शतकों के साथ वो सचिन तेंदुलकर के रिकॉर्ड से ६ सेंचुरी दूर हैं। किंतु इन शतकों को बनाने के लिए बल्लेबाजी भी करनी पड़ती है जो कम से कम आज के विराट में नहीं दिख रही।
नेमार को होगी जेल
शानदार ब्राजील के फुटबॉलर और पेरिस सेंट जर्मेन के स्ट्राइकर नेमार को जेल हो सकती है। दरअसल, नौ साल पहले ब्राजील के दिग्गज क्लब सैंटोस से बार्सिलोना क्लब में अपने स्थानांतरण में विसंगतियों के लिए दो साल या उससे अधिक की जेल की सजा और भारी जुर्माना का सामना करना पड़ सकता है। २०१७ में फ्रांसीसी दिग्गज पीएसजी में जाने से पहले चार साल यहां बिताए। स्पेनिश क्लब में उनका स्थानांतरण करना परेशानी का सबब रहा है और अक्टूबर में बार्सिलोना कोर्ट में अंतिम सुनवाई निर्धारित है। बार्सिलोना यूनिवर्सल की एक रिपोर्ट में बुधवार को कहा गया कि बार्सिलोना में नेमार के अनुबंध में तत्कालीन क्लब के अध्यक्ष सैंड्रो रासेल की ओर से बहुत सारी गलतियां शामिल थीं, जिन्होंने ब्राजील के फुटबॉलर के पिता और एजेंट और सैंटोस एफसी के एक पूर्व निदेशक के साथ मिलीभगत की थी।
गिल को गिला
भले ही टूर्नामेंट के सरदार यानी मैन ऑफ द सीरीज बने हों मगर शुभमन गिल को गिला है कि उनका पहला शतक नहीं बन सका। बारिश ने उनके शतक को बनने से रोक दिया या यूं कहें उनके शतक के सामने विलन बन गई बारिश। ये बारिश गिल को बहुत दिन तक याद रहेगी। ३६ ओवर के बाद टीम इंडिया का स्कोर ३ विकेट पर २२५ रन था। शुभमन गिल ९८ रन बनाकर नाबाद थे। तभी एक बार फिर बारिश आ गई। जब बारिश रुकी तो हिंदुस्थान  को दोबारा बल्लेबाजी करने का ही मौका नहीं मिला। वेस्टइंडीज के सामने ३५ ओवर में २५७ रन का लक्ष्य रखा गया। इसके साथ ही शुभमन गिल शतक बनाने से भी चूक गए। यह इंटरनेशनल क्रिकेट में उनका सबसे बड़ा स्कोर है। ९८ गेंदों की अपनी पारी में उन्होंने ७ चौके और दो छक्के लगाए। शुभमन गिल ९८ रन पर नाबाद रहे। इसके साथ उन्होंने टीम इंडिया बल्लेबाजों की एक खास लिस्ट में जगह बनाई, जो वनडे में ९० रन पर नाबाद रहे हैं। इस लिस्ट में सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग और सुनील गावस्कर जैसे महान बल्लेबाज शामिल हैं।

अन्य समाचार