मुख्यपृष्ठखेलआउट ऑफ पैवेलियन : मैं कोहली के लिए आई हूं

आउट ऑफ पैवेलियन : मैं कोहली के लिए आई हूं

अमिताभ श्रीवास्तव

मैं कोहली के लिए आई हूं
जरूरी थोड़ी होता है कि किसी की गर्लफ्रेंड  या पत्नी ही अपने पति या दोस्त के लिए आए। दर्शक भी आते हैं। या कहें दर्शक आते ही अपने पसंदीदा खिलाड़ी के लिए। अब स्टेडियम में जो दिखा उससे अनुष्का शर्मा को जो कुछ भी लगे या वो अपने पति विराट कोहली के नाम पर गर्व करे पर जिस लड़की ने कोहली के लिए ये पोस्टर दिखाया उसका ये सच्चा प्यार था। जी हां, विराट कोहली ने पाकिस्तान के खिलाफ बढ़िया प्रदर्शन दिखाया। इस मैच की एक महिला फैन का फोटो वायरल हो रहा है। उसने अपने हाथ में एक पोस्टर ले रखा है। इस पोस्टर पर लिखा है- मैं यहां कोहली के लिए हूं। जब विराट क्रीज पर बल्लेबाजी करने उतरे थे, तभी महिला पोस्टर दिखाते नजर आई। महिला की वेशभूषा से वह मुस्लिम लग रही थी जो इस बात को भी जाहिर करती है कि खेल किसी मजहब से नहीं बल्कि उसके बेहतर खिलाड़ियों से प्यारा बनता है।
अर्श गोल्ड है
अंतिम समय जब गेंदबाज अर्शदीप ने कैच छोड़ा और फिर टीम इंडिया हार गई तो पाकिस्तानी और आतंकी मानसिकता वाले इसका गलत उपयोग करना शुरू कर दिए हैं। अर्शदीप को खालिस्तानी बताकर वो टीम में फूट डालने की कोशिश कर रहे हैं। एशिया कप में हिंदुस्थान-पाकिस्तान मैच में कैच छोड़ने के बाद से ही अर्शदीप को सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जा रहा है। एक एक्टिविस्ट ने बताया कि पाकिस्तानी अकाउंट्स से अर्शदीप को खालिस्तानी बताने की साजिश रची जा रही है। एक्टिविस्ट ने ऐसे ८ अकाउंट्स की डिटेल भी पोस्ट की थी। पूर्व दिग्गज स्पिनर हरभजन सिंह ने युवा तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह का बचाव करते हुए लिखा- ‘अर्शदीप सिंह को कोसना बंद करो, कोई जान बूझकर कैच नहीं छोड़ता है। पाकिस्तान ने बेहतर क्रिकेट खेला। यह शर्मनाक है कि कुछ लोग हमारी टीम और अर्शदीप को लेकर सोशल मीडिया पर घटिया बातें कर रहे हैं। अर्शदीप गोल्ड है।’
टी-२० बल्लेबाजों का होता है
यदि इस बात को कोई परे रखना चाहे कि टी-२० फॉर्मेट केवल बल्लेबाजों का होता है तो समझ लीजिए वो नादान है। क्योंकि क्रिकेट का ये फॉर्मेट सौ फीसदी बल्लेबाजों के लिए बना है। गेंदबाज केवल बल्लेबाजों के प्रदर्शन पर ही कामयाब बन सकते हैं शेष कितने भी खूंखार गेंदबाज टीम में भर लो यदि बल्लेबाज रन ही नहीं बनाएंगे तो टीम को हारना ही है। सुपर ४ के टीम इंडिया बनाम पाकिस्तान के बीच मैच में कहने को १८१ रन बना लिए थे। मगर २० से २५ रन जो टीम इंडिया की बेवकूफी की वजह से नहीं बन पाए वही हार का कारण बना। जिस टीम के पास १० ओवरों में १०० रन हो वो टीम अगले १० ओवरों में १२५ रन बना सकने की कूवत रखती है यदि टीम में बल्लेबाज होशियार हों। रोहित, राहुल के आउट हो जाने के बाद एक कुशल बल्लेबाज वो होता है जो इस बने हुए औसत को आगे ले जाए न कि एक बे सिर पैर का, बचकाना और पूरी तरह बेववूâफाना रिवर्स शॉट लगाकर कैच दे बैठना जो ऋषभ पंत ने किया। टीम इंडिया यहीं से मैच हारने की शुरुआत कर बैठी थी। अब गेंदबाजों को दोष देना बेकार है। इसे समझा जाए। टीम में बल्लेबाज हों, अक्षर पटेल की जरूरत थी इस मैच में। मगर अपनी गलतियों से हारने का खूब अनुभव है टीम इंडिया को।
रंगीला प्लेयर
बास्केटबॉल के एक खिलाड़ी पर एक पोर्न स्टार ने आरोप लगाया है कि उसने उसे न केवल प्रेग्नेंट बनाया बल्कि बाद में छोड़ भी दिया। फुटबाल, रग्बी, बास्केटबॉल ऐसे मशहूर खेल हैं कि इनके खिलाड़ियों की जिंदगी ग्लैमरस रहती है। बेशुमार दौलत और रंगीन जिंदगी जीनेवाले खिलाड़ी फिर मानवता तक को धता बता देते हैं। पॉर्न स्टार लाना रोड्स ने हाल ही में एक वीडियो पोस्ट किया। जिसमें उन्होंने गर्भवती होने के लिए एनबीए खिलाड़ी को दोषी ठहराया और कहा कि उसने उन्हें जलील करके भगा दिया। बीनेशनल बास्केटबॉल एसोसिएशन यानी कि एनबीए के एक खिलाड़ी ने उन्हें प्यार में धोखा दिया। उनके साथ रिश्ता बनाया और जब वह प्रेग्नेंट हो गई और अपने बच्चे को जन्म देना चाहा, तब उन्होंने उसे गाली देकर भगा दिया। हालांकि, लाना ने अपने वीडियो में बच्चे के पिता का नाम का खुलासा नहीं किया।

(लेखक सम सामयिक विषयों के टिप्पणीकर्ता हैं। ३ दशकों से पत्रकारिता में सक्रिय हैं व दूरदर्शन धारावाहिक तथा डाक्यूमेंट्री लेखन के साथ इनकी तमाम ऑडियो बुक्स भी रिलीज हो चुकी हैं।)

अन्य समाचार