मुख्यपृष्ठखेलआउट ऑफ पैवेलियन : शाकिब का सैकड़ा

आउट ऑफ पैवेलियन : शाकिब का सैकड़ा

  • अमिताभ श्रीवास्तव

शाकिब का सैकड़ा
न न बल्लेबाजी में नहीं बल्कि मैदान पर उतरने का सैकड़ा। जी हां, एशिया कप में बांग्लादेश की टीम अपना पहला मैच ३० अगस्त को अफगानिस्तान के साथ खेलेगी। यह मैच टी-२० इंटरेशनल में बांग्लादेश के कप्तान शाकिब अल हसन के करियर का १००वां मैच होगा। ऐसा होते ही शाकिब बांग्लादेश के तीसरे ऐसे क्रिकेटर बन जाएंगे, जिनके नाम इंटरनेशनल टी-२० में १०० या उससे ज्यादा मैच खेलने का रिकॉर्ड होगा। शाकिब से पहले ऐसा कारनामा बांग्लादेश के लिए मोहम्मद महमुदुल्लाह कर चुके हैं। महमुदुल्लाह ने बांग्लादेश के लिए टी-२० इंटरनेशनल में कुल ११९ मैच खेले हैं, वहीं मुशफिकुर रहीम ने बांग्लादेश के लिए अब तक १०० टी-२० इंटरनेशनल मैच खेले हैं। शाकिब ने अब तक टी-२० इंटरनेशनल में ९९ मैच खेलते हुए कुल २०१० रन बनाए हैं और साथ ही १२१ विकेट लेने में सफल रहे हैं। एशिया कप में अफगानिस्तान के खिलाफ मैच खेलते ही शाकिब बांग्लादेश के इकलौते ऐसे क्रिकेटर बन जाएंगे, जिनके नाम टी-२० इंटरनेशनल में १०० मैच और १०० से ज्यादा विकेट दर्ज होगा।
यूएसए में नो एंट्री
टेनिस के दिग्गज खिलाड़ी नोवाक जोकोविच को अमेरिका में नो एंट्री है। दरअसल ये भी एक जिद की वजह से कि वो कोरोना का टीका यानी वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। इसके पहले भी इस वैक्सीन के चलते वो विवादों में फंस चुके हैं, यहां तक कि उन्हें गिरफ्तार तक कर लिया गया था। अब फिर ये विवाद हो गया है। तय हो गया कि नोवाक कोरोना का टीका नहीं लगवाने के कारण अमेरिका की यात्रा नहीं कर सकेंगे और इसी वजह से सिनसिनाटी ओपन हार्डकोर्ट टूर्नामेंट से उन्हें पीछे हटना पड़ा। वो इस साल अमेरिकी ओपन भी नहीं खेल पाएंगे, जो न्यूयॉर्क में २९ अगस्त से शुरू हो रहा है। जोकोविच पहले भी कह चुके हैं कि वह कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए टीका नहीं लगवाएंगे। इसी वजह से वो जनवरी में ऑस्ट्रेलियाई ओपन और अमेरिका में दो टूर्नामेंट नहीं खेल सके।
क्यों मारे लात-घूंसे?
ये हैरान कर देने वाली घटना है और खेल जगत के लिए तो सबसे बुरी। हमारे जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा का विश्व चैंपियन बनने का सपना तोड़ने वाले ग्रेनाडा के एंडरसन पीटर्स के साथ उन्हीं के देश में मारपीट हुई है, जिससे वो घायल हो गए हैं। पीटर्स कॉमनवेल्थ गेम्स के बाद इसी हफ्ते अपने देश लौटे थे। कैरेबियन नेशनल डेली की खबर के मुताबिक पीटर्स की कुछ लोगों ने पिटाई कर दी और उन्हें बोट से बाहर फेंक  दिया। इस मामले में पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। इस घटना का वीडियो भी वायरल हो रहा है। इसमें देखा जा सकता है कि एक बोट पर कुछ लोग पीटर्स के साथ मारपीट कर रहे हैं। इसके बाद उन्हें नीचे फेंक दिया गया था। पीटर्स ने हाल ही में अमेरिका के यूजिन में हुई वल्र्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जेवलिन थ्रो इवेंट का गोल्ड मेडल जीता था। उन्होंने ९०.५४ मीटर दूर भाला फेंककर अपने खिताब का बचाव किया था।
सिंधु को स्ट्रेस फ्रेक्चर 
अब ये स्ट्रेस फ्रेक्चर  क्या बला है? और इसकी चर्चा आई क्यों? दरअसल इसी फ्रेक्चर में शटलर पीवी सिंधु ने कॉमनवेल्थ गेम्स में स्वर्ण पदक जीता था, मगर किसी को बताया नहीं, केवल कोच और अपने डॉक्टर से बात कर जैसे-तैसे टूर्नामेंट खत्म किया। मगर अब तो इलाज जरूरी है इसीलिए सिंधु ने एक पत्र सार्वजनिक किया और बताया कि उन्हें स्ट्रेस फ्रेक्चर  हो गया है लिहाजा आगामी टूर्नामेंट वो नहीं खेलेंगी। सिंधु ने बाएं पैर में ‘स्ट्रेस फ्रेक्चर ’ के कारण आगामी बैडमिंटन विश्व चैंपियनशिप से नाम वापस ले लिया है। दो बार की ओलिंपिक पदक विजेता ने ट्विटर पर साझा बयान में पुष्टि की कि वो २०२२ विश्व चैंपियनशिप से हट जाएंगी। सिंधु ने २०१९ में विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता है। वो बीडब्ल्यूएफ विश्व चैंपियनशिप में सबसे सफल बैडमिंटन खिलाड़ी हैं, जिन्होंने पांच पदक जीते हैं- एक स्वर्ण, दो रजत और दो कांस्य पदक। विश्व चैंपियनशिप २१ अगस्त से २८ अगस्त तक टोक्यो में होगी।

(लेखक सम सामयिक विषयों के टिप्पणीकर्ता हैं। ३ दशकों से पत्रकारिता में सक्रिय हैं व दूरदर्शन धारावाहिक तथा डाक्यूमेंट्री लेखन के साथ इनकी तमाम ऑडियो बुक्स भी रिलीज हो चुकी हैं।)

अन्य समाचार