मुख्यपृष्ठनए समाचारपकिस्तान का फिर से आतंक को खुला समर्थन ... आतंकवादी की पत्नी को दिया...

पकिस्तान का फिर से आतंक को खुला समर्थन … आतंकवादी की पत्नी को दिया मंत्री पद!

• जेकेएलएफ प्रमुख मोहम्मद यासीन मलिक की पत्नी हैं मुशाल  
•  भारतीय जेल में सजा काट रहा है यासीन मलिक

दीपक शर्मा / जम्मू 
प्रतिबंधित आतंकी संगठन जेकेएलएफ प्रमुख मोहम्मद यासीन मलिक जिसने कश्मीर में निर्दोषों का लहू बहाया उसी आतंकवादी की पत्‍नी मुशाल मलिक अब पाकिस्तान की कार्यवाहक सरकार का हिस्सा बन गर्इं हैं। मुशाल को कार्यवाहक प्रधानमंत्री अनवारुल हक कक्‍कड़ ने मानवाधिकार और महिलाओं से जुड़े मामले का विशेष सलाहकार नियुक्त किया है। यासीन मलिक जो इस समय तिहाड़ जेल में बंद है, उसकी पत्नी मुशाल एक पाकिस्‍तानी नागरिक होने के साथ ही मलिक के साथ निकाह करने के बाद भारत की भी नागरिक बन गई थी। साल २००९ में जब दोनों की शादी हुई तो भारत के रक्षा विशेषज्ञ भी हैरान रह गए थे। मुशाल हमेशा से कश्‍मीर पर जहर उगलती रहती हैं। मुशाल पेशे से एक आर्टिस्ट है।
भारत के दावे की पुष्टि 
मलिक की पत्नी मुशाल मलिक को पड़ोसी दुश्मन देश द्वारा मंत्री बनाए जाना भारत के इस दावे का समर्थन करता है कि पाकिस्तान आतंकवाद और आतंकवादियों की पनाहगाह है। मलिक की पत्नी को पाकिस्तान में मंत्री नियुक्त कर पाकिस्तान ने एक बार फिर सबूत दिया है कि उसकी नीयत व नीति आतंकवाद को पनाह देने की है। मलिक की पत्नी भारत और उसकी सेना के खिलाफ मनगढ़ंत कहानियां पैâलाने में शामिल रही है। शांति के लिए खतरा बने तत्वों पर लगाम लगाने के बजाय, पाकिस्तान बार-बार ऐसी हरकतों का सहारा लेता रहा है जो भारत के राष्ट्रीय हितों को नुकसान पहुंचाती हैं।

भारत आ चुकी है मुशाल  
मुशाल और यासीन की शादी साल २००९ में हुई थी। उस समय मलिक पाकिस्तान गया था। जहां उसने मुशाल से शादी कर ली। दोनों की एक ११ साल की बेटी रजिया है। साल २०१० में यासीन और मुशाल की शादी की पहली सालगिरह थी तो वह भारत आई थी। उस समय उसने कुछ समय कश्‍मीर में भी बिताया था। एक रिपोर्ट के मुताबिक, साल २००५ में यासीन मलिक कश्‍मीर की आजादी के लिए समर्थन हासिल करने पाकिस्तान गया था।

अन्य समाचार