मुख्यपृष्ठग्लैमरपम्मी पहलवान छा गई

पम्मी पहलवान छा गई

वेब सीरीज ‘आश्रम’ की पम्मी पहलवान यानी अभिनेत्री अदिति पोहनकर ओटीटी की बड़ी स्टार बन गई हैं। इस समय उनकी ‘शी-२’ चर्चा में है। वे इस सीरीज में एक कॉन्स्टेबल परदेसी की भूमिका में हैं। जिन्होंने इसका पहला सीजन देखा है, वे यहां भूमि को पिछली बार से अधिक आत्मविश्वास से भरा पाएंगे। यह बोल्ड कंटेंट हैं, जिसमें अदिति पोहनकर और उनके पुरुष सह-कलाकार बेहिचक दिखते हैं। बड़े पर्दे पर प्रेम कथाओं के मास्टर इम्तियाज अली ने अपराध का यह डार्क अंडरवर्ल्ड और सेक्स वर्करों की दुनिया रची है, यह बात चौंकाती भी है। कहानी थोड़ी और बेहतर हो सकती थी, लेकिन इम्तियाज कुछ जगहों पर संभाल नहीं सके। वह बताते हैं कि संगत वैâसे इंसान को बदलती है। औसतन ४५-४५ मिनट के सात एपिसोड के सीजन की एक समस्या यह भी है कि जब आपको लगता है, अंत में कोई बड़ा धमाका होगा, तो ऐसा नहीं होता। आखिरी एपिसोड सबसे कम एक्शन-इमोशन वाला साबित होता है और क्लाइमेक्स निराश करता है। हालांकि एक अंधेरी दुनिया से रूबरू होने के लिए यह सीरीज देखी जा सकती है। अगर आपने पहला सीजन देखा है तो दूसरा सीजन देखने में हर्ज नहीं है। सीजन-२ में पुलिस नायक को तलाश कर उसके ड्रग्स के नेटवर्क को ध्वस्त करने की कोशिश में है। नायक ने मुंबई में ड्रग्स टॉफी जैसा आसान बना दिया है। लेकिन ‘शी-२’ का यह हिस्सा इसकी कमजोर कड़ी है। जब-जब शी की कहानी ड्रग नेटवर्क की तरफ मुड़ती है, इसकी कसावट ढीली पड़ जाती है। इस नेटवर्क का कामकाज ठीक ढंग से समझ भी नहीं आता। इस ट्रैक में दृश्यों-संवादों में दोहराव भी आप देख सकते हैं।

अन्य समाचार