मुख्यपृष्ठराशि-भविष्यपंचांग : नवंबर- २०२३, कार्तिक मास कृष्णपक्ष, शक संवत - १९४५, विक्रम...

पंचांग : नवंबर- २०२३, कार्तिक मास कृष्णपक्ष, शक संवत – १९४५, विक्रम संवत – २०८०

 पं. प्रसाद दीक्षित

सोमवार ६ नवंबर- कार्तिक मास कृष्णपक्ष की नवमी तिथि रात्रि ५.४५ तक
मंगलवार ७ नवंबर- कार्तिक मास कृष्णपक्ष की दशमी तिथि समस्त, भद्रा शाम को ६.५० से प्रारंभ
बुधवार ८ नवंबर- कार्तिक मास कृष्णपक्ष की दशमी तिथि प्रात: ७.५५ तक इसके बाद एकादशी तिथि प्रारंभ, भद्रा प्रात: ७.५५ तक
बृहस्पतिवार ९ नवंबर- कार्तिक मास कृष्णपक्ष की एकादशी तिथि दिन में ९.५८ तक, रंभा एकादशी व्रत
शुक्रवार १० नवंबर- कार्तिक मास कृष्णपक्ष की द्वादशी तिथि दिन में ११.४७ तक इसके बाद त्रयोदशी तिथि प्रारंभ, प्रदोष व्रत, धन त्रयोदशी (धनतेरस), शाम को दीपदान, अकाल मृत्यु के शमन हेतु यमराज के निमित्त घर के द्वार पर चतुर्मुख नवदीप का दान करना उत्तम रहेगा
शनिवार ११ नवंबर- कार्तिक मास कृष्णपक्ष की त्रयोदशी तिथि दिन में १.१३ तक इसके बाद चतुर्दशी तिथि प्रारंभ, मास शिवरात्रि व्रत, धन्वंतरि जयंती, नरक चतुर्दशी, चंद्रोदय रात्रि ४.०५ पर, कामेश्वरी जयंती, भद्रा दिन में १.१३ से रात्रि ४.०२ तक
रविवार १२ नवंबर- कार्तिक मास कृष्णपक्ष की चतुर्दशी तिथि दिन में २.१२ तक इसके बाद अमावस्या तिथि प्रारंभ, प्रदोष काल में दीपावली ३०, लक्ष्मी-इंद्र-कुबेर आदि पूजन, प्रात: हनुमान दर्शन, महाकाली पूजा

(लेखक प्रसिद्ध धर्माचार्य और श्री काशी विश्वनाथ मंदिर, वाराणसी के न्यासी हैं।)

अन्य समाचार