मुख्यपृष्ठनए समाचारदहशत में अभिभावक! चार बच्चे आए वापस एक महीने में ५० गायब,...

दहशत में अभिभावक! चार बच्चे आए वापस एक महीने में ५० गायब, स्पेशल टीम बनाकर शुरू की जांच 

सामना संवाददाता / नई मुंबई

नई मुंबई पुलिस के तरफ से बताया गया है कि लापता होने वाले बच्चों को लेकर स्थानीय पुलिस स्टेशन में अपहरण का मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई है। इसके साथ ही नई मुंबई पुलिस के तरफ से एक विशेष टीम बनाकर इनकी तलाश में जुटे हैं। नई मुंबई पुलिस की तरफ से अभी तक कई बच्चों को तलाश करने में सफल होने का दावा भी किया गया है।

पिछले कुछ समय से बच्चों के गायब होने की बढ़ती घटनाओं से अभिभावक काफी दहशत में आ गए हैं। सिर्फ नई मुंबई में पिछले  २४ घंटे में चार नाबालिग लड़कियां और दो लड़के लापता हो गए और उनमें से एक का पता लगा लिया गया है। जब कि पिछले एक सप्ताह में बच्चों के गायब होने की संख्या १० से अधिक है। जिसमें १२ से १५ साल की उम्र के नाबालिग बच्चे तीन से चार दिसंबर के बीच लापता हुए। जिसमें से चार बच्चे मिले हैं। एक बच्चा ठाणे रेलवे स्टेशन पर मिला  है।

कोपरखैरने सेक्टर १९ में रहनेवाला १४ वर्षीय विजय प्रकाश यादव पिछले महीने घर से खेलने के बहाने निकला था, लेकिन देर रात तक वापस नहीं आने पर घर वालों ने उसे चारों तरफ तलाश किया। कही नहीं मिला, जिसके बाद इसकी शिकायत कोपरखैरने पुलिस स्टेशन में दर्ज कराई। विजय के घर वालों ने उसे चारों तरफ तलाश कर चुके हैं कोपरखैरने रेलवे स्टेशन में लगे सीसीटीवी वैâमरे में विजय प्लेटफॉर्म पर दिखाई दे रहा है। आगे कहां गया उसकी कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। वहीं कामोठे की रहनेवाली १३ वर्षीय अंतरा विचारे रविवार को अपने सहपाठी के जन्मदिन समारोह में गई और वापस नहीं लौटी।  कलंबोली में रहनेवाली १२ वर्षीय आरती वाल्मीकि आठवीं कक्षा में पढ़ाई करती है, उसके माता-पिता नौकरी करते है। हमेशा की तरह शनिवार को माता-पिता जब काम पर से घर आए तो वह घर में नहीं मिली। उसकी तलाश चारों तरफ किए जाने पर कहीं दिखाई नहीं दी। जिसके बाद घर वालों ने कलंबोली पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई, वहीं शनिवार को पनवेल शहर पुलिस स्टेशन अंतर्गत १६ वर्षीय सरिता विश्वकर्मा के घर वाले काम से बाहर गए थे। वापस आने पर देखा तो घर में नहीं थी। इसकी शिकायत पनवेल शहर पुलिस स्टेशन मे दर्ज कराई गई है। पनवेल शहर पुलिस स्टेशन में ही १ दिसंबर को १६ वर्षीय आयशा नावडेकर  और हाजर मंसूरी के गायब होने की शिकायत दर्ज कराई गई है। पनवेल की एक १४ वर्षीय लड़की रविवार को अपने दोस्त के घर एक धार्मिक सभा में गई, लेकिन वापस नहीं लौटी है। कामोठे इलाके में १२ वर्षीय एक लड़की सोमवार को अपने घर से बाहर गई थी और उसके बाद लापता हो गई। एक अन्य १३ वर्षीय लड़की सोमवार को स्कूल के लिए रबाले इलाके में अपने घर से निकली थी, लेकिन नहीं लौटी। इसके अलावा रबाले का एक १३ वर्षीय लड़का सोमवार तड़के एक सार्वजनिक शौचालय में गया और तब से उसका कोई पता नहीं चल रहा है। उन्होंने बताया कि संबंधित पुलिस थानों में अपहरण का मामला दर्ज कर लिया गया है और बच्चों का पता लगाने के प्रयास जारी हैं। पिछले एक महीने से अपने बच्चे की तलाश कर रहे प्रकाश यादव ने बताया कि उनके बच्चे का सुराग सीसीटीवी वैâमरे में होने के बावजूद अभी तक कोई पता नहीं चल सका है। इसके लिए जरूरी कदम उठाने की गुहार लगा रहे हैं।

अन्य समाचार