मुख्यपृष्ठनए समाचारसिटी स्कैन मशीन की कमी से मरीज हैं बेहाल

सिटी स्कैन मशीन की कमी से मरीज हैं बेहाल

रेशमा मिर्गल, पार्क साइट, विक्रोली, मुंबई

मुंबई के सायन अस्पताल में सिर्फ एक सिटी स्कैन मशीन होने की वजह से मरीजों का हाल बुरा हो रहा है। क्योंकि यह सिटी स्कैन मशीन एक दिन में मुश्किल से १० मरीजों का ही स्कैन कर पाती है। हर डेढ़ घंटे के बाद मशीन के गर्म हो जाने के बाद उसे २ घंटे के लिए बंद करना पड़ता है। सायन अस्पताल में हजारों मरीज भर्ती होते हैं, जिनमें से सैकड़ों मरीजों को प्रतिदिन सिटी स्कैन करवाने की जरूरत होती है। इसके अलावा अस्पताल के ओपीडी में इमरजेंसी में आए हुए मरीजों को तुरंत सिटी स्कैन की जरूरत होती है। पिछले दिनों मुंब्रा से एक ऑटोचालक लाया गया था, जो एक्सीडेंट में पूरी तरह घायल हो गया था। उसे तत्काल सिटी स्कैन करने की आवश्यकता थी लेकिन सिटी स्कैन मशीन बंद होने की वजह से उसे स्ट्रेचर पर ६ घंटे तक इंतजार करना पड़ा। अस्पताल के कर्मचारी अपनी मजबूरी दिखाते हुए कहते हैं कि हम मजबूर हैं। अगर दो से तीन मशीन होती तो मरीजों का इलाज जल्द से जल्द किया जा सकता था। सायन अस्पताल में मुंबई के गरीब तबके के मरीज भर्ती होते हैं जिनके पास इतना पैसा नहीं होता कि वह प्राइवेट अस्पताल में जाकर अपना इलाज करवा सकें। इसलिए महाराष्ट्र सरकार और मुंबई महानगरपालिका से निवेदन है कि वह सायन अस्पताल में कम से कम दो और सीटी स्कैन मशीन लगाने की व्यवस्था करे।

अन्य समाचार