मुख्यपृष्ठनए समाचारजानकारी उपलब्ध नहीं कराने पर १५० से अधिक ब्लड बैंकों पर लगाया...

जानकारी उपलब्ध नहीं कराने पर १५० से अधिक ब्लड बैंकों पर लगाया गया जुर्माना

सामना संवाददाता / मुंबई
राज्य रक्त आधान परिषद (एसबीटीसी) और केंद्र सरकार की राष्ट्रीय रक्त आधान परिषद (एनबीटीसी) की वेबसाइटों पर कितने रक्तदान शिविर आयोजित किए गए, कितना रक्त एकत्र किया गया आदि का विवरण भरना अनिवार्य कर दिया गया है। हालांकि, इस दायित्व का पालन नहीं करने पर १५० से अधिक ब्लड बैंकों पर १३ लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। मुंबई महानगरपालिका के अधिकार क्षेत्र में आने वाले वूâपर अस्पताल के ब्लड सेंटर पर सबसे ज्यादा जुर्माना लगाया गया है। इस जुर्माने की रकम ७० हजार से ज्यादा है। यह केंद्र एक समर्पित बहुउद्देश्यीय धर्मार्थ विकास संस्थान द्वारा चलाया जाता है। चूंकि दिवाली के कारण पिछले सप्ताह कई लोग छुट्टी पर थे, इसलिए रक्तदान करनेवालों की काफी कमी हो गई थी। जिसकी वजह से ब्लड बैंक में खून का स्टॉक कम हो गया था। राज्य भर के १५० से अधिक ब्लड बैंकों पर जुर्माना लगाया गया। बता दें कि राज्य में ३७६ ब्लड बैंक हैं, जिनमें से ७६ ब्लड बैंक सरकार और नगरपालिका सरकारों के साथ-साथ केंद्र सरकार द्वारा भी चलाए जाते हैं। वर्ष २०२० में निर्णय लिया गया कि ब्लड बैंकों द्वारा वेबसाइटों पर जानकारी उपलब्ध नहीं कराने पर प्रतिदिन १,००० रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा। जिसके बाद दिसंबर, २०२२ से लेकर अप्रैल २०२३ तक की अवधि के लिए वेबसाइट पर जानकारी जमा नहीं करने वाले ब्लड बैंकों पर जुर्माना लगाया गया है।

अन्य समाचार