मुख्यपृष्ठनए समाचारगुलाबी ठंड ने दी दस्तक मुंबईकरों को मिली गर्मी से राहत, स्वास्थ्य...

गुलाबी ठंड ने दी दस्तक मुंबईकरों को मिली गर्मी से राहत, स्वास्थ्य को लेकर बरतें सावधानी

धीरेंद्र उपाध्याय / मुंबई

मायानगरी मुंबई में पारा गिरने से लोग गुलाबी ठंड का एहसास कर रहे हैं। अल सुबह और देर रात हल्की ठंड महसूस होने लगी है। कल तो पूरे दिन आसमान में धुंध छाई रही, जिस कारण पूरे दिन मुंबईकरों ने न केवल गर्मी से राहत महसूस की, बल्कि हल्की ठंड का भी सामना किया। शुक्रवार को न्यूनतम तापमान में तीन डिग्री तक की गिरावट रही। मौसम विभाग के अनुसार, रविवार को अधिकतम तापमान ३० तथा न्यूनतम तापमान १९.७ डिग्री रहा। भारतीय मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक, अगले २४ घंटों में आसमान में बादल छाए रहेंगे। अधिकतम और न्यूनतम तापमान गिरकर क्रमश: २८ और २० डिग्री रह सकता है। मौसम विभाग के मुताबिक, ओलावृष्टि के कारण हवा में नमी ५० से ६० फीसदी तक कम हो गई है।

मौसम विभाग की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक पूर्वाेत्तर अरब सागर के ऊपर हवा की चक्रवाती स्थिति बनी हुई है। उत्तरी महाराष्ट्र पर बना दबाव मध्य प्रदेश की ओर स्थानांतरित हो गया है। बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्व में बने कम दबाव के क्षेत्र के चक्रवाती तूफान में विकसित होने और उत्तर-पश्चिमी दिशा में बढ़ने की आशंका है। इसलिए विदर्भ, मराठवाड़ा में बादल छाए रहने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार से राज्य में बादलों की स्थिति कम हो जाएगी और वातावरण शुष्क होना शुरू हो जाएगा। बंगाल की खाड़ी में चक्रवात के परिणामस्वरूप विदर्भ, मराठवाड़ा में सोमवार से फिर से बादल छाए रहने की संभावना है। अगले दो दिनों तक उत्तरी महाराष्ट्र, विदर्भ और मराठवाड़ा के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश की संभावना है। बादल छाए रहने के कारण विदर्भ में न्यूनतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस बढ़ गया है। शुक्रवार को राज्य में सबसे कम तापमान महाबलेश्वर में १६.८ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मुंबई में छाया कोहरा

मुंबई में शुक्रवार को धूप खिली रही और सुबह कोहरे की चादर छाई रही। मुंबई में पिछले कुछ दिनों से सुबह थोड़ी ठंडी महसूस होती है और पूरे दिन हवाएं चलती रहती हैं। सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) के अनुसार, मुंबई में एक्यूआई वर्तमान में ९२ की रीडिंग के साथ `संतोषजनक’ श्रेणी में रहा। इसके साथ ही कोलाबा १०१ रीडिंग के साथ मध्यम, अंधेरी में ८१ एक्यूआई के साथ संतोषजनक, मलाड में ८३ एक्यूआई के साथ संतोषजनक, भांडुप में ७७ एक्यूआई के साथ संतोषजनक, बीकेसी में १४० एक्यूआई के साथ मध्यम, बोरीवली में १०० एक्यूआई के साथ संतोषजनक, मझगांव में ११० एक्यूआई के साथ मध्यम, चेंबूर में ११० एक्यूआई के साथ मध्यम, वर्ली में ५३ एक्यूआई के साथ संतोषजनक और नई मुंबई में १४२ एक्यूआई के साथ मध्यम श्रेणी में रहा।

सर्दी में बरतें सावधानी

जुपिटर अस्पताल के सीनियर कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. विजय सुरासे ने बताया कि ठंड में हृदय रोगियों की दिक्कतें बढ़ने लगती हैं। ठंड के कारण ब्लड प्रेशर बढ़ने लगता है। उन्होंने कहा कि अगर बीपी या हार्ट की दवा लेते हैं, तो नियमित रूप से लेते रहें और नियमित अंतराल पर अपने फैमिली डॉक्टर की सलाह भी जरूर लें। चेस्ट स्पेसलिस्ट डॉ. विजय सिंघल ने कहा कि सर्दियों में राइनो वायरस की सक्रियता बढ़ जाती है। इससे खांसी, जुकाम के साथ फेफड़ों में इंफेक्शन और सांस की नली में सूजन से सांस फूलने की दिक्कत बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि ऐसे में ठंड से बचें, अत्यधिक ठंड में सुबह या शाम को टहलने न निकलें।

अन्य समाचार