मुख्यपृष्ठअपराधमोबाइल पर लूडो खेलना बेटे को पड़ा भारी...बाप ने पीट-पीटकर मार डाला!

मोबाइल पर लूडो खेलना बेटे को पड़ा भारी…बाप ने पीट-पीटकर मार डाला!

सामना संवाददाता / लखनऊ
आजकल ऑनलाइन का जमाना है। आज हर चीज ऑनलाइन हो गई है। फिर चाहे वह ऑनलाइन शॉपिंग हो…या ऑनलाइन गेम! आज के दौर में बच्चों का आधे से अधिक समय ऑनलाइन गेम खेलने में ही बीतता है। और वह गेम में व्यस्त हो जाता है फिर उसे और कोई चीज दिखाई ही नहीं देती। अभी हाल में लखनऊ में एक मामला सामने आया था जहां एक बेटे ने अपनी मां की हत्या कर दी वह भी इसलिए क्योंकि उसकी मां उसे पबजी गेम खेलने से हमेशा टोका करती थी। आज भी एक ऐसा ही मामला उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ से आया है। जहां पर लूडो खलने की वजह से आठ साल के बेटे को पिता ने पीट-पीट कर मार डाला। हत्या के बाद भाइयों की मदद से बेटे की लाश को नदी किनारे दफना दिया।
मिली जानकारी के अनुसार मोबाइल पर लूडो खेलने की वजह से नाराज पिता ने बेटे की हत्या कर दी और भाईयों की मदद से उसकी लाश को नदी के किनारे दफना दिया।
महुला निवासी जितेंद्र निषाद का आठ साल का बेटा लकी कक्षा दो में पढ़ता था। रोज की तरह कल वह भी मोबाइल पर लूडो खेल रहा था। इस बात से नाराज होकर जितेंद्र ने लकी की पिटाई शुरू कर दी। पिटाई की वजह से लकी गंभीर रूप से घायल हो गया। लकी की हालत बिगड़ती रही और रात करीब साढ़े नौ बजे लकी की मौत हो गई। जितेंद्र ने अपने भाई उपेंद्र पुत्र श्रीराम और चचेरे भाई राम जन्म के साथ मिल कर लकी के शव को नदी के किनारे दफन कर दिया। मंगलवार शाम को लकी की नानी व मां ने महुला पुलिस चौकी में बेटे की हत्या की तहरीर दी। शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने आरोपी पिता जितेंद्र को गिरफ्तार कर लिया और उसके भाइयों की तलाश में जुटी है।
आरोपी भाईयों की तलाश में पुलिस
मां की शिकायत के बाद पुलिस आरोपी को गिरफ्तार कर शव को बरामद कर लिया। पुलिस अब आरोपी के भाइयों की तलाश में जुट गई है, जो कि अभी भी फरार चल रहे हैं।

अन्य समाचार