मुख्यपृष्ठविश्वश्रीलंका में विपक्ष के दबाव में झुके पीएम ...राजपक्षे का इस्तीफा

श्रीलंका में विपक्ष के दबाव में झुके पीएम …राजपक्षे का इस्तीफा

देश के कई हिस्सों में हिंसा • टकराव का बढ़ा खतरा
एजेंसी / कोलंबो । दिवालिया हो चुके श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने विपक्ष के दबाव में इस्तीफा दे दिया। पिछले हफ्ते प्रमुख विपक्षी नेता सिरिसेना ने राष्ट्रपति से मुलाकात की थी। इसमें तय हो गया था कि प्रधानमंत्री महिंदा इस्तीफा देंगे। इसके बाद अंतरिम सरकार बनेगी। दूसरी तरफ श्रीलंका के कई हिस्सों में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़पों की खबरें हैं। इससे भी बड़ा खतरा महिंदा के इस्तीफे से खड़ा हो गया है। दरअसल उनके बड़े भाई और राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे नहीं चाहते थे कि महिंदा इस्तीफा दें, लेकिन विपक्ष की मांग के आगे उन्हें झुकना पड़ा। उन्होंने अपने समर्थकों को सड़कों पर उतार दिया। अब राजपक्षे भाइयों के विरोधियों और समर्थकों के बीच देश के कई हिस्सों में झड़पें शुरू हो गई हैं।
प्रदर्शन कर रहे लोगों की पुलिस से झड़प
श्रीलंका १९४८ में अपनी आजादी के बाद इस समय सबसे बुरे आर्थिक संकट से गुजर रहा है। देश का विदेशी मुद्रा भंडार लगभग खत्म हो चुका है, जिससे वह जरूरी चीजों का आयात नहीं कर पा रहा है। इसे देखते हुए बांग्लादेश ने करेंसी स्वैप के माध्यम से दिए गए २० करोड़ डॉलर के लोन को चुकाने की अवधि एक साल के लिए बढ़ा दी है। बांग्लादेश बैंक के डायरेक्टर्स ने एक बैठक में यह पैâसला किया।

 

अन्य समाचार