मुख्यपृष्ठनए समाचारजवानों के लिए पीएम को नहीं है फुर्सत... कतर के कारागार में...

जवानों के लिए पीएम को नहीं है फुर्सत… कतर के कारागार में कराहते ८ पूर्व हिंदुस्थानी नौसैनिक!

रिटायर्ड मेजर जनरल ने एक बार फिर मोदी को पत्र लिखकर की रिहा कराने की अपील
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन दिनों राज्यों के चुनाव प्रचार में बिजी हो गए हैं। वे ऐसा दिखाते हैं कि उन्हें इस देश की बड़ी चिंता है। देश की रक्षा करनेवाले जवानों की तारीफ करते वे नहीं थकते। पर जब बात उनकी तकलीफों की आती है तो उनके पास वक्त कम पड़ जाता है। कतर की जेल में एक वर्ष से भी ज्यादा वक्त से इंडियन नेवी के ८ पूर्व नौसैनिक बंद हैं। इस बारे में पूर्व सैनिकों की संस्था ‘इंडियन एक्स सर्विसमेन मूवमेंट’ चार पत्र पीएम मोदी को लिख चुकी थी। अब उसने हाल ही में पांचवीं बार मोदी को पत्र लिखकर इन पूर्व नौसैनिकों को रिहा कराने की अपील की है।
जेल में बंद इन सभी पूर्व नौसैनिकों पर जो केस दर्ज कराया गया है, वह कब खत्‍म होगा, यह कोई नहीं जानता है। इन पूर्व नौसैनिकों को कतर के गृह मंत्रालय ने हिरासत में लिया था। जेल में बंद इन पूर्व नौसैनिकों ने कतर के अमीर से उन्हें माफी देने के लिए दया याचिका भी दायर की थी। पर अभी तक काई परिणाम नहीं निकला है। अब रिटायर्ड सैनिकों ने पीएम को गत २९ सितंबर को खत लिखकर कहा है कि आपको इन ८ पूर्व नौसैनिकों के बारे में पता ही है। अब देश के ३० लाख पूर्व सैनिक इस बात से काफी व्यथित हैं कि अभी तक उन्हें रिहा नहीं कराया जा सका है। इसलिए आपसे एक बार फिर अनुरोध है कि आप अपने प्रभाव का उपयोग करके उन्हें रिहा कराएं। इस पत्र पर मेजर जनरल (रि.) सतबीर सिंह के हस्ताक्षर हैं। अब देखना है कि इस बार भी मोदी सरकार कोई एक्शन लेती है या फिर आंखें मूंदें बैठी रहती है।

अन्य समाचार