मुख्यपृष्ठनए समाचारचुनावी सभा में झूठ बोल रहे हैं पीएम ... मोदी को पढ़ाएंगे...

चुनावी सभा में झूठ बोल रहे हैं पीएम … मोदी को पढ़ाएंगे मैनिफेस्टो का पाठ! …खड़गे ने मांगा मिलने का समय

समझाएंगे कांग्रेस का घोषणापत्र

सामना संवाददाता / नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनावी सभाओं में कांग्रेस मेनिफेस्टो के बारे में झूठी बातें प्रचारित कर रहे हैं। वे कह रहे हैं कि कांग्रेस सत्ता में आएगी तो आम आदमी के गहने जप्त कर उसे दूसरों को बांट दिया जाएगा। इस पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति दर्ज की है। अब कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने पीएम मोदी से मिलने का समय मांगा है, ताकि उन्हें कांग्रेस के मेनिफेस्टो का पाठ पढ़ाया जा सके।
कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे ने कहा, ‘पीएम हमारे मैनिफेस्टो को सही से समझ नहीं पाए हैं। उनसे मिलकर उन्हें मैनिफेस्टो समझाना है।’ दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भाजपा नेता कांग्रेस मैनिफेस्टो को मुस्लिम लीग का मैनिफेस्टो बता रहे हैं। पीएम ने रविवार को राजस्थान के बांसवाड़ा और सोमवार को यूपी के अलीगढ़ में कहा था, ‘कांग्रेस जनता की कमाई छीनकर ज्यादा बच्चे वालों को देना चाहती है। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा कि मैनिफेस्टो की प्रतियां हमारे पार्टी नेताओं और लोकसभा उम्मीदवारों की तरफ से प्रधानमंत्री को भेजी जाएंगी। कांग्रेस ने ये भी कहा कि पार्टी चुनाव आयोग में एक लाख लोगों के दस्तखत कराकर एक याचिका भी दायर करेगी। वेणुगोपाल के मुताबिक, प्रधानमंत्री ने जो कहा, वह हमारे मैनिफेस्टो में नहीं है। वे वोटों के लिए सांप्रदायिक ध्रुवीकरण की कोशिश कर रहे हैं। क्या चुनाव आयोग ने उन्हें (पीएम को) बात पर झूठ बोलने की अनुमति दी है। जब चुनाव आयोग हर बात पर हस्तक्षेप करता है तो इस मुद्दे पर खामोश क्यों है? आयोग को स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करना चाहिए। मोदी ने कहा था, कांग्रेस लोगों की संपत्ति ज्यादा बच्चे वालों को बांट देगी। मोदी ने २१ अप्रैल को राजस्थान के बांसवाड़ा में रैली की थी। इसमें उन्होंने कहा था कि अगर कांग्रेस की सरकार बनेगी तो हरेक की प्रॉपर्टी का सर्वे किया जाएगा। हमारी बहनों के पास कितना सोना-चांदी है, इसकी जांच की जाएगी। ये संपत्ति सबको समान रूप से बांट दी जाएगी। है।

अन्य समाचार

कुदरत

घरौंदा