मुख्यपृष्ठनए समाचारपब चालकों और बार मालिकों से पुलिसवाले इकट्ठा कर रहे लाखों का...

पब चालकों और बार मालिकों से पुलिसवाले इकट्ठा कर रहे लाखों का हफ्ता …रवींद्र धंगेकर, सुषमा अंधारे का जोरदार हमला

सूची के साथ किया उत्पाद शुल्क विभाग का घेराव
सामना संवाददाता / मुंबई
पुणे में अवैध रूप से चल रहे प्रत्येक पब चालक और बार मालिक से पुलिसवाले महीने का लाखों रुपए इकट्ठा करने का गोरखधंधा कर रहे हैं। इसमें ड्रग्स माफियाओं का भी समावेश है। इतना ही नहीं पुणे की नाइट लाइफ को अब तक नजरअंदाज करनेवाले शुल्क विभाग के अधीक्षक घरण सिंह राजपूत को महीने में हर होटल से पैकेट मिल रहे हैं। इस तरह के आरोप लगाते हुए कांग्रेस विधायक रवींद्र धंगेकर और उपनेता सुषमा अंधारे ने जोरदार हमला किया। इस बीच कल महाविकास आघाड़ी के नेताओं ने इसकी सूची के साथ पुणे स्थित उत्पाद शुल्क विभाग का घेराव किया।
पुणे के कल्याणी नगर इलाके में रविवार आधी रात के आसपास एक भयानक हादसा हुआ। इसमें धनाढ्य बाप के बेटे की पोर्शे कार ने एक दुपहिया वाहन को टक्कर मार दी थी। इस हादसे में युवक और युवती की मौत हो गई थी। इस दुर्घटना के बाद धनाढ्य बाप के आरोपी बेटे को बचाने के लिए विधायक से लेकर डॉक्टर, पुलिसकर्मियों समेत कई लोगों ने अपने ईमान को बेच दिया। इसे लेकर रोजाना नए-नए खुलासे हो रहे हैं। दूसरी तरफ हादसे के बाद पुणे में पब और बारों का मुद्दा जोरशोर से चर्चा में है। इसी कड़ी में कल शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) की उपनेता सुषमा अंधारे, कांग्रेस विधायक रवींद्र धंगेकर ने सीधे उत्पाद शुल्क विभाग का घेराव किया। साथ ही इस बीच किस पब और बार मालिक से पुलिसवालों को कितने हफ्ते मिलते हैं, इसकी सूची ही पढ़ डाली। इस संबंध में धंगेकर ने एक ट्वीट भी किया है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि किस पब मालिक, बार मालिक से कितना हफ्ता मिल रहा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि कई पुलिस कर्मी एजेंट के तौर पर खुद ठेका लेते हैं। इस तरह की जानकारी एक्साइज के स्टाफ ने दी है।
हर माह लाखों का कलेक्शन
आरोप है कि प्रति माह ७८ लाख रुपए का कलेक्शन है। इसके साथ ही २ साल में २.५ करोड़ रुपए का नया लाइसेंस बनवाने के लिए लिए गए हैं। इस तरह पुलिस प्रशासन पब और बार मालिकों से लाखों रुपए की वसूली कर रहा है। धंगेकर ने कहा कि यह मामला बेहद गंभीर है। इस खेल से पुणे पुलिस प्रशासन का नाम जिस तरीके से खराब हुआ है, वह बेहद निंदनीय और घृणित है।

सुषमा अंधारे आक्रामक
इस दौरान शिवसेना उपनेता सुषमा अंधारे भी आक्रामक हो गर्इं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ न करें। प्रदेश में युवाओं को बर्बाद करने का खेल खेला जा रहा है। उन्होंने सवाल उठाया कि ये ड्रग्स आखिरकार कहां से आती हैं? ललित पाटील मामले में अजय टावरे को गिरफ्तार किया जाना चाहिए था। उन्हें क्यों रिहा किया जा रहा है? इस तरह का सवाल सुषमा अंधारे ने पूछा।

अन्य समाचार