मुख्यपृष्ठखबरेंकश्मीर में कंगाल पाकिस्तान की करतूत, आतंकियों को कर रहा कूरियर से...

कश्मीर में कंगाल पाकिस्तान की करतूत, आतंकियों को कर रहा कूरियर से फंडिंग!

सामना संवाददाता / श्रीनगर
हिंदुस्थान को चोट पहुंचाने के लिए आतंकवाद का सहारा लेकर पाकिस्तान बर्बाद हो चुका है लेकिन इसके बाद भी पाकिस्तान कश्मीर में निर्दोष लोगों की हत्या का पाप करने से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तान में जनता जहां दाने-दाने को मोहताज हो रही है, वहीं पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई कश्मीर में आतंकियों को कूरियर के जरिए पैसा पहुंचा रही है। ऐसा खुलासा एसआईए ने किया है। बता दें कि आतंकी सरगनाओं और पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने कश्मीर में आतंकी और अलगाववादी गतिविधियों की फंडिंग के लिए अब एक नया तरीका अपनाया है। वह हवाला और बैंकों के जरिए लेन-देन के अलावा वैâश कूरियर का इस्तेमाल कर रहे हैं। इसमें अपने किसी जानकार व्यक्ति को पैसा दूसरे तक पहुंचाने के लिए दिया जाता है। कई वैâश कूरियर को खुद भी पता नहीं होता कि वह आतंकियों के लिए पैसा लेकर जा रहा है, क्योंकि उन्हें छोटी-छोटी रकम (१०-२० हजार) दी जाती है, ताकि पकड़ने जाने पर भी किसी को संदेह न हो कि पैसा आतंक या अलगाववादी गतिविधियों के लिए भेजा जा रहा है। आतंकी संगठनों की इस साजिश का पर्दाफाश प्रदेश जांच एजेंसी (एसआईए) ने कश्मीर में आतंकियों के तंत्र को नष्ट करने के अभियान के तहत जांच के दौरान किया है। इसी अभियान के तहत एसआईए ने शनिवार को वादी के पांच जिलों में एक हुर्रियत नेता के मकान समेत १२ जगहों पर तलाशी ली और २९ लाख रुपए की नकदी के अलावा मोबाइल फोन, सिमकार्ड, बैंक दस्तावेज, वित्तीय लेन देन से संबंधित कुछ डायरियां भी जब्त की हैं। स्थानीय सूत्रों ने बताया कि जिन तत्वों के घरों को खंगाला गया है, उनमें श्रीनगर के बरजुला में स्थित हुर्रियत नेता मोहम्मद अशरफ और नादिरगुंड पीरबाग में मुश्ताक अहमद वानी शामिल हैं। कुपवाड़ा के दर्दहारी करालपोरा में मोहम्मद सईद बट, बारामुला के पट्टन के आरपोरा में मुजफ्फर हुसैन बट के मकान की भी तलाशी ली गई, हालांकि एसआईए ने किसी के नाम की पुष्टि नहीं की है।

अन्य समाचार