मुख्यपृष्ठखबरेंवेंटिलेटर पर पोस्टमार्टम घर! ...राजावाड़ी अस्पताल की रामभरोसे सुविधाएं

वेंटिलेटर पर पोस्टमार्टम घर! …राजावाड़ी अस्पताल की रामभरोसे सुविधाएं

 शिव आरोग्य सेना ने प्रशासन को दिया निवेदन
सामना संवाददाता / मुंबई
राजावाड़ी अस्पताल का पोस्टमार्टम घर इन दिनों वेंटिलेटर पर है। अस्पताल दयनीय स्थिति से गुजर रहा है। इसकी इमारत भी खतरनाक हो गई है। इतना ही नहीं, मृतकों के परिजनों के बैठने की जगह समेत यहां मौजूद सभी सुविधाएं रामभरोसे ही चल रही हैं। इन समस्याओं को गंभीरता से लेते हुए शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) शिव आरोग्य सेना ने पुलिस अस्पताल नागपाड़ा में पुलिस सर्जन डॉ. पाटील को ज्ञापन देकर समस्याओं को दूर करने की मांग की।
शिव आरोग्य सेना की अध्यक्ष डॉ. शुभा राऊल, कार्याध्यक्ष डॉ. किशोर ठाणेकर के निर्देशानुसार महाराष्ट्र राज्य समन्वयक जितेंद्र सकपाल की प्रमुख उपस्थिति में संगठन के पदाधिकारियों ने नागपाड़ा पुलिस अस्पताल में पुलिस सर्जन, प्रशासन से मुलाकात की। महाराष्ट्र सरकार के गृह विभाग के अंतर्गत आनेवाले राजावाड़ी अस्पताल की पोस्टमार्टम इमारत खतरनाक होने के कारण यहां आने वाले मृतकों के रिश्तेदारों और अस्पताल के कर्मचारियों की जान किसी भी समय खतरे में पड़ सकती है। मृतक को पोस्टमार्टम के लिए स्ट्रेचर पर ले जाने का रास्ता अवरुद्ध होने से परिजनों को अकारण ही खर्च करना पड़ रहा है। इसके अलावा नायगांव के पुलिस अस्पताल की हालत भी काफी खराब हो गई है। इस संबंध में पाटील से चर्चा के बाद उन्हें आगे की कार्रवाई किए जाने के लिए ज्ञापन दिया गया, वहीं अस्पताल प्रशासन ने भी इस संबंध में तत्काल आवश्यक कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर शिव आरोग्य सेना के मुंबई जिला संपर्क समन्वयक अमोल वंजारे, मुंबई जिला समन्वयक सचिव ज्योति भोसले, सुप्रिया ठोंबरे पाटणे, मुंबई उपनगर (पूर्व) सह-समन्वयक प्रकाश वाणी, उपनगर (पूर्व) समन्वयक सचिव शिवाजी झोरे, घाटकोपर (पश्चिम) समन्वयक विनायक कानसकर, रितेश पाचारकर, लितेश केरकर, हितेश गायकवाड़ आदि पदाधिकारी मौजूद थे।

अन्य समाचार