" /> प्रयागराज-अयोध्या होकर बुलेट ट्रेन गुजारने की तैयारी !

प्रयागराज-अयोध्या होकर बुलेट ट्रेन गुजारने की तैयारी !

दिल्ली से वाराणसी तक हाई स्पीड बुलेट ट्रेन का रूट तीर्थराज प्रयाग व रामनगरी अयोध्या होकर गुजारने की तैयारी की जा रही है। जिसके लिए प्रस्तावित सर्वेक्षण पर भी रेलवे ने रविवार से ‘वार्मअप’ होना शुरू कर दिया है। रेल मंत्रालय ने इसके लिये एरियल लिडार सर्वे को मंजूरी दे दी है।
इससे अब ये लगभग तय हो गया है कि बुलेट ट्रेन इन महत्‍वपूर्ण स्‍थलों (अयोध्या-प्रयागराज) से भी होकर गुजरेगी। नई दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर  सर्वे में पूर्वांचल के कई महत्वपूर्ण शहर शामिल हैं। गौतमबुद्ध नगर  से मथुरा, आगरा, इटावा, लखनऊ, रायबरेली, अयोध्या, प्रयागराज, भदोही होते हुए वाराणसी में यह कॉरिडोर खत्म होगा। इस हाई स्पीड कॉरिडोर में अब पूर्वांचल के कई शहरों के जुड़ जाने से कार्य की प्रगति और तेज हो गई है। इसी वजह से रेल विभाग ने नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने सर्वे कार्य १० से १२ सप्ताह में पूर्ण कर लेने के संकेत दिए हैं। जिससे कि ट्रैक निर्माण का कार्य भी शीघ्र शुरू हो सके। उम्मीद है कि, वाराणसी-नई दिल्ली का ८६५ किमी लंबा सफर प्रस्तावित बुलेट ट्रेन से मात्र ढाई घंटे में तय होगा। हवा से बातें करने वाली यह ट्रेन ३०० किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी। दूसरी ओर बुलेट ट्रेन ट्रैक के लिए भूमि अधिग्रहण की सुगबुगाहट भी शुरू हो चली है।