मुख्यपृष्ठनए समाचारप्रोजेक्ट पड़ताल: एमटीएचएल पर मिली तारीख पर तारीख, क्या इस बार शुरू...

प्रोजेक्ट पड़ताल: एमटीएचएल पर मिली तारीख पर तारीख, क्या इस बार शुरू हो पाएगा सबसे बड़ा सी-ब्रिज!

अभिषेक कुमार पाठक

अरब सागर के ऊपर मुंबई को नई मुंबई से जोड़नेवाला सबसे बड़ा सी-ब्रिज कई महीनों से चर्चा का विषय बना हुआ है। चर्चा में रहने की वजह भी कई थी। विपक्ष नेता और युवासेनाप्रमुख आदित्य ठाकरे ने भी एमटीएचएल के उद्घाटन के लिए अपनी आवाज उठाई थी। एमटीएचएल को लेकर काफी राजनीति हुई है। मुंबई ट्रांस हार्बर सी लिंक (एमटीएचएल) का उद्घाटन १२ जनवरी को किया जाएगा। यह उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा।
बता दें कि मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजन डेवलपमेंट अथॉरिटी (एमएमआरडीए) ने प्रधानमंत्री को एक पत्र लिखा था और इसका उद्घाटन १२ जनवरी को करने के लिए कहा था, क्योंकि पीएम मोदी १२ जनवरी को नासिक में स्वामी विवेकानंद राष्ट्रीय महोत्सव में भाग लेने के लिए महाराष्ट्र आ रहे हैं। इसलिए एमएमआरडीए चाहती थी कि उसी दौरान प्रधानमंत्री मुंबई आकर एमटीएचएल का भी उद्घाटन करें। अधिकारी ने बताया कि एमएमआरडीए ने उद्घाटन को ग्रैंड बनाने के लिए इवेंट मैनेजमेंट वंâपनी की नियुक्ति के लिए टेंडर भी जारी किया है, जो इस कार्यक्रम को बड़ा और यादगार बनाएगी। याद दिला दें कि ठेकेदारों ने काम पूरा करने के २ एक्सटेंशन मिस कर दिए थे। यह काम २२ सितंबर २०२२ को पूरा होने की उम्मीद थी। एमएमआरडीए प्रशासन ने पहला विस्तार २२ सितंबर २०२३ तक दिया। इसके बाद १५ दिसंबर २०२३ तक दूसरा विस्तार दिया गया था, लेकिन तब तक काम पूरा नहीं हो पाया था। अब भी काम पूरा करना बाकी है।

दमकल गाड़ियां और एंबुलेंस की होगी सुविधा

अटल बिहारी वाजपेयी ट्रांस हार्बर लिंक प्रोजेक्ट नई मुंबई की ओर चिरले गांव और मुंबई की ओर शिवडी को जोड़ती है। इस प्रोजेक्ट में मुंबई खाड़ी में लगभग २१.८ किमी का ६-लेन का विस्तार शामिल है। इस समुद्री पुल पर चार इंटरचेंज, टोल संग्रह सुविधा और अन्य आवश्यक सुविधाएं शामिल की गई हैं। साथ ही प्रोजेक्ट पूरा होने के बाद इसे सुरक्षित और कुशलतापूर्वक चलाने के लिए एक इमारत भी होगी। इसके साथ ही इस मार्ग पर आपातकालीन सुविधा में दमकल गाड़ियां और एंबुलेंस शामिल हैं। इन वाहनों की पार्विंâग के लिए मार्ग पर आरक्षित स्थान रखे जाएंगे।

कनेक्टिविटी होगी आसान

इस ब्रिज के शुरू होने पर यह सीधे मुंबई और नई मुंबई के बीच सड़क की दूरी और यात्रा के समय को एक-चौथाई तक कम कर देगा। इसके अलावा नई मुंबई से पुणे, गोवा, पनवेल और अलीबाग के विस्तारित क्षेत्रों को मुंबई से सीधी कनेक्टिविटी देगा। साथ ही प्रस्तावित नई मुंबई अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे, जेएनपीटी पोर्ट, मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे और मुंबई-गोवा राजमार्ग के साथ तेज कनेक्टिविटी प्रदान करेगा। इसके अलावा मुंबई की ओर शिवडी-वर्ली एलिवेटेड कनेक्टर प्रोजेक्ट के माध्यम से कोस्टल रोड से कनेक्टिविटी की योजना बनाई गई है। इस ब्रिज पर रोजाना ७०,००० से अधिक वाहन गुजरेंगे।

अन्य समाचार