मुख्यपृष्ठनए समाचार‘राहुल गांधी लड़ाकू नेता’... चुनाव आयोग के नोटिस पर सुप्रिया सुले की...

‘राहुल गांधी लड़ाकू नेता’… चुनाव आयोग के नोटिस पर सुप्रिया सुले की प्रतिक्रिया

भाजपा पर भी साधा निशाना

सामना संवाददाता / मुंबई

कांग्रेस नेता राहुल गांधी एक लड़ाकू नेता हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ की गई टिप्पणी के संबंध में केंद्रीय चुनाव आयोग द्वारा जारी नोटिस का वे ‘ईमानदारी से और गरिमा के साथ’ जवाब देंगे। इस तरह की प्रतिक्रिया राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सांसद सुप्रिया सुले ने दी है। इस बीच उन्होंने भाजपा पर जमकर निशाना साधा।
राजस्थान के बाड़मेर में अयोजित एक सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘पनौती’ बोला था और मखौल उड़ाते हुए कहा था कि नरेंद्र मोदी स्टेडियम में उनकी उपस्थिति रविवार को हिंदुस्थान वर्ल्ड कप के अंतिम मैच में पराजित का कारण है। उन्होंने यह भी कहा था कि ‘अच्छे भले हमारे लड़के वहां पर वर्ल्ड कप जीत जाते, पर ‘पनौती’ ने हरा दिया।’
चुनाव आयोग ने जारी किया कारण बताओ नोटिस
चुनाव आयोग ने ‘पनौती’, ‘पॉकेटमार’ और कर्ज माफी को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधने के लिए राहुल गांधी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। साथ ही उनसे शनिवार शाम तक जवाब देने को कहा है।
राहुल गांधी का किया समर्थन
राकांपा की कार्याध्यक्ष सुप्रिया सुले ने राहुल गांधी का समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी एक मजबूत और ईमानदार नेता हैं। मेरा मानना है कि वे बहादुरी से लड़ेंगे और किसी से नहीं डरेंगे। वे लड़ाकू हैं। वे निडर हैं, क्योंकि वे ईमानदार हैं।
भाजपा पर बात करने के हैं कई उदाहरण
भाजपा की आलोचना करते हुए सुप्रिया सुले ने कहा कि हमारे पास भाजपा के अपने परिवार के बारे में बात करने के कई उदाहरण हैं, इसलिए अब अगर वे कुछ कहते हैं तो बुरा क्यों लगता है? उन्होंने (भाजपा) राहुल गांधी के परदादा के बारे में भी बात की थी।

अन्य समाचार