मुख्यपृष्ठसमाचाररेलवे के सलाहकार को रेलवेकर्मी को चिलमबाजी छोड़ने की सलाह देना पड़ा...

रेलवे के सलाहकार को रेलवेकर्मी को चिलमबाजी छोड़ने की सलाह देना पड़ा भारी!

  • एससी एसटी आदि संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज

कमल कांत उपमन्यु / मथुरा
रेलवे के पूर्व अधिकारी एवं जेडआरयूसीसी के मेंबर देवीलाल साहू का वृंदावन रेलवे स्टेशन पर एक चिलमबाज रेलवेकर्मी को नशेबाजी छोड़कर कार्य पर ध्यान देने की सलाह देना भारी पड़ गया। नशे में धुत उस रेलकर्मी ने न केवल जेड आर यू सी सी मेंबर को भद्दी भद्दी गालियां दीं बल्कि एक डंडा उठाकर उन्हें मारने भी दौड़ा। किसी तरह रेलवे सलाहकार ने अपनी जान बचाई और उसी समय इसकी शिकायत फोन द्वारा डीआरएम महोदय से की। रेलवे के उच्च अधिकारियों ने तत्काल रेलवे सलाहकार को उस रेलवेकर्मी का फोटो भेजने को कहा और रेलवे सलाहकार शाह ने वरिष्ठ रेलवे अधिकारियों को घटनास्थल से ही दूरभाष पर फोटो भेज दिए, इस पर रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि इसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। यह सब देख और सुन रहे रेलवे कर्मचारी का नशा काफूर हो गया और उसने रेलवे के सलाहकार देवी लाल साहू के खिलाफ मथुरा आकर रेलवे थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी, जिसमें जान से मारने की धमकी, गाली गलौज की रिपोर्ट दर्ज करा दी जब इसकी जानकारी रेलवे के सलाहकार देबू लालसा को हुई तो उन्होंने फिर उच्च अधिकारियों से बात की वह भी इस कर्मचारी की हरकत पर हैरान रह गए। उन्होंने कहा कि आप चिंता न करिए हम जांच करके कठोर कार्रवाई करेंगे। बहरहाल देखना यह है कि रेलवे में ऐसे नशाखोर कर्मचारी पर रेलवे अधिकारी लगाम लगाने में कामयाब हो पाते भी हैं या रेलवे सलाहकार और पूर्व अधिकारी देवीलाल साहू को सलाह देना भारी पड़ेगा। इस पूरी घटना से रेलवे के अधिकारी कर्मचारी दंग हैं तथा जेड आरयूसी के जितने भी मेंबर हैं, वह भी दंग हैं कि जब रेलवे के रिटायर्ड अधिकारी और रेलवे सलाहकार के साथ या ऐसा कुछ हो सकता है तो उनके साथ क्या-क्या नहीं हो सकता?

अन्य समाचार