मुख्यपृष्ठनए समाचाररामदेव रागवले! पत्रकार ने दिखाया आईना तो बिफरे बाबा जी, चुनौती देते...

रामदेव रागवले! पत्रकार ने दिखाया आईना तो बिफरे बाबा जी, चुनौती देते हुए कहा, ‘मेरी पूंछ पाडेगा के?’

सामना संवाददाता / करनाल। केंद्र में पिछले करीब सात वर्षों से नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा की सरकार है। वर्ष २०१४ में मोदी व भाजपा को केंद्र में सत्ता पर काबिज होने का मौका उनकी किसी उपलब्धि की वजह से नहीं मिला था, बल्कि इसमें वरिष्ठ समाज सेवक अन्ना हजारे व योग गुरु बाबा रामदेव का मुख्य योगदान था, साथ ही साथ कांग्रेस की तत्कालीन मनमोहन सिंह सरकार और उसके मंत्रियों की लापरवाही भी उतनी ही जिम्मेदार है। २०१४ के लोकसभा चुनाव से करीब डेढ़ साल पहले अन्ना हजारे और रामदेव ने ‘किसी अदृश्य शक्ति’ के इशारे पर भाजपा के लिए जमीन तैयार करना शुरू कर दिया था। अन्ना ने जन-लोकपाल बिल के माध्यम से जनता को भरमाया तो योग गुरु बाबा रामदेव ने काले धन को वापस लाने का सब्जबाग देश की जनता को दिखाया था। वहीं से देशवासियों को भाजपा ने ‘अच्छे दिन’ और सभी के खाते में १५ लाख रुपए आने का सपना दिखाना शुरू किया था। उस दौरान रामदेव ने मीडिया को दिए गए साक्षात्कार में पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि के लिए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा था। तब पेट्रोल के दाम ७५ रुपए तक पहुंच जाने पर रामदेव ने लोगों को मोदी राज में पेट्रोल ४० रुपए लीटर तक बिकने का सपना बेचा था, लेकिन आज पेट्रोल ११६ रुपए के पार पहुंच गया है। इस पर जब एक पत्रकार ने बाबाजी को घेरने का प्रयास किया तो ‘रामदेव रागवले’ यानी क्रोधित हो गए। सवालों से बिफरे योग गुरु ने पत्रकार को धमकाते हुए यहां तक कह दिया, ‘हां मैने कहा था, बोल अब तू क्या मेरी पूंछ पाडेगा?’
पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के दौरान लगभग डेढ़ सौ दिनों तक स्थिर रही र्इंधन की कीमतें अब दस दिन में नौ बार बढ़ चुकी हैं। नतीजतन, देश के लगभग सभी हिस्सों में पेट्रोल व डीजल करीब १०० रुपए के पार पहुंच गया है। मुंबई में तो पेट्रोल ११६.७२ पैसे हो गया है। र्इंधन के दाम में लगातार हो रही इस वृद्धि से दूसरी सभी चीजों के दाम बढ़ने लगे हैं। जनता देश में त्राहि-त्राहि करने लगी है। ऐसे में योग गुरु बाबा रामदेव का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक पत्रकार बाबाजी से कालेधन को लेकर करीब आठ साल पहले किए गए आंदोलन और उस दौरान पेट्रोल ४० रुपए प्रति लीटर दाम में बिकने के उनके दावों के बारे में सवाल पूछता नजर आता है। बाबाजी पहले तो पत्रकार को रोकने का प्रयास करते हैं लेकिन पत्रकार वही सवाल बार-बार दोहराता है तो उनका पारा चढ़ जाता है। गुस्से में बिफरे बाबाजी पत्रकार से यहां तक कह देते हैं कि ‘हां, मैंने कहा था लेकिन क्या तुम मेरा कुछ बिगाड़ सकते हो?’ पत्रकार ने आईना दिखाया तो बाबाजी पत्रकार को सभ्यता का पाठ पढ़ाने लगते हैं। वीडियो में बाबाजी पत्रकार को धमकी देते हुए कहते हैं, ‘तू कोई ठेकेदार है, जो मैं तेरे हर सवाल का जवाब दूं, जब एक बार कह दी तो थोड़ा सभ्य भी बन जाया करो।’

अन्य समाचार