मुख्यपृष्ठनए समाचारजलने से पहले ही भीगा रावण! कुशनगरी में भारी बरसात, दुर्गा पूजा...

जलने से पहले ही भीगा रावण! कुशनगरी में भारी बरसात, दुर्गा पूजा व रामलीला प्रभावित

विक्रम सिंह / सुलतानपुर
यूपी में भारी बरसात ने बुधवार को श्रद्धालुओं के उत्साह, उल्लास और उमंग पर पानी पेâर दिया। सुबह से ही बारिश की झड़ी शुरू हुई तो थमी नहीं। जहां एक ओर दुर्गा पूजा के पंडालों में बारिश का पानी रिसने लगा तो वहीं दहन के पहले ही रावण गलने लगा। कानपुर में सबसे बदतर स्थिति नजर आई, जबकि कुशनगरी सुलतानपुर में दशानन के विशालकाय पुतले को पॉलीथिन से ढंक कर लिटाना पड़ा। जब बरसात थमी तब जाकर रिमझिम फुहारों के मध्य येन-केन- प्रकारेण आनन-फानन में रावण दहन किया जा सका।
बता दें कि सुलतानपुर की मशहूर लखनऊ नाका की रामलीला में शाम पांच बजे ओवरब्रिज पर परंपरागत ढंग से राम-रावण युद्ध के मंचन के उपरांत दशानन पुतला दहन का कार्यक्रम तय था। लेकिन बारिश के चलते विशाल पुतले को आयोजक खड़ा भी न कर सके। दिनभर बरसात होती रही। जिससे पॉलीथिन ओढ़ाकर पुतले को दहन स्थल पर ही लिटाना पड़ा। आखिरकार विधायक विनोद सिंह व आला अफसरों की मौजूदगी में श्रीराम ने रावण की नाभि में तीर चलाया और जय श्रीराम के जयकारों के बीच धू-धू कर दशानन जल उठा। उधर दुर्गापूजा महोत्सव में भी बारिश ने खलल डाल दिया है। जिससे पूजा मंडपों में देवी प्रतिमाओं को सुरक्षित करने में आयोजकों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है।

अन्य समाचार