मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनापाठकों की पाती : सीनेट चुनाव को लेकर आदित्य ठाकरे ने दी...

पाठकों की पाती : सीनेट चुनाव को लेकर आदित्य ठाकरे ने दी चुनौती 

राज्य सरकार ने अचानक सीनेट का चुनाव रद्द कर दिया। इसके बाद बवाल मच गया है। `दोपहर का सामना’ में छपी खबर के अनुसार शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता और विधायक आदित्य ठाकरे ने इसे लेकर सरकार को जमकर लताड़ा है। आदित्य ठाकरे ने सीधे सवाल पूछा है कि सरकार में यदि दम है तो सीनेट चुनाव रद्द करने का कारण बताए और यह भी बताए कि सरकार चुनाव क्यों नहीं करा रही है? इस सीनेट चुनाव को लेकर अन्य पार्टियों ने भी अपना मत व्यक्त किया है। सभी में सीनेट चुनाव के रद्द होने पर नाराजगी है। मैं भी सरकार से पूछना चाहता हूं की क्या वजह है कि चुनाव को रद्द कर दिया गया और यह फैसला भी अचानक क्यों लिया गया है? इसके पीछे की मंशा क्या है?
-प्रदीप जैन, चुनाभट्टी

भ्रष्टाचारियों की फाइल दबा रही है यह सरकार?
यह सरकार भ्रष्टाचारियों की फाइल दबाने का काम कर रही है, ऐसा हमें `दोपहर के सामना’ अखबार में छपी खबर से पढ़ने के बाद पता चला है। यह बहुत गलत बात है। भ्रष्टाचार हटाने की बात कर सरकार में आई बीजेपी और उसकी सहयोगी पार्टियों की यह करतूत गलत है। भ्रष्टाचारियों को सजा देने के बदले उनकी फाइलें दबा देने का मामला सामने आने के बाद ऐसा प्रतीत होता है कि सरकार इन भ्रष्टाचारियों को मदद कर रही है। सरकार को इस पर जवाब देना होगा, नहीं तो कुर्सी खाली करनी होगी। वैसे तो २०२४ के चुनाव में आम जनता जवाब देनेवाली ही है।
-रोहित नाईक, दिवा

अन्य समाचार