मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनापाठकों की पाती : सबूतों से भरी बैलगाड़ी कहां गई?

पाठकों की पाती : सबूतों से भरी बैलगाड़ी कहां गई?

विधान परिषद के विरोधी पक्ष नेता अंबादास दानवे ने शिंदे-फडणवीस-पवार सरकार पर बहुत ही बेहतरीन ढंग से तंज कसा है। `दोपहर का सामना’ ने इस बाबत एक खबर प्रकाशित की है, जिसका शीर्षक है `पहले जेल में डालने की धमकियां, अब गलबहियां’ इस खबर के माध्यम से अंबादास दानवे के इस बयान को प्रकाशित किया गया है, जिसमें उन्होंने यह भी सवाल पूछा है कि ७० हजार करोड़ के सबूतों से भरी बैलगाड़ी कहां गई? देवेंद्र फडणवीस जिस अजीत पवार के खिलाफ ७० हजार करोड़ रुपए के भ्रष्टाचार के सबूतों से भरी बैलगाड़ी लानेवाले थे। जेल में डालने की धमकियां दे रहे थे, आज उसी दादा के साथ बैठे हैं।
– पंकज झा, कल्याण

आरएसएस ने जमाया धंधा, हर संस्था पर कब्जा!
सांसद राहुल गांधी ने सत्ताधारियों पर तीखे व्यंग्य करके कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ यानी आरएसएस ने देश के हर संगठन पर कब्जा कर लिया है और मंत्रालय भी यही चला रहा है। राहुल गांधी के इस बयान को `दोपहर का सामना’ ने विस्तारपूर्वक प्रकाशित किया है। हालांकि, राहुल गांधी अपने पिता स्व. राजीव गांधी के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम के लिए लद्दाख आए हुए थे, लेकिन उनका यह बयान बहुत मायने रखता है।
-सुशील तिवारी, दिवा

अन्य समाचार