मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनापाठकों की पाती : स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने सच कहा

पाठकों की पाती : स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने सच कहा

‘दोपहर का सामना’ ने सरकार के मंत्रियों और उनके कामकाज की पद्धति को उजागर करनेवाली खबर प्रकाशित की है। हाल ही में सरकारी अस्पतालों में हुई मौतों के मामले में स्वास्थ्य मंत्री तानाजी सावंत ने आखिरकार सच उगल ही दिया। उन्होंने बयान दिया है कि सरकारी अस्पतालों में होनेवाली मौत से स्वास्थ्य विभाग का कोई संबंध नहीं है। उन्होंने यह भी कह दिया कि इन मौतों के लिए केवल मैं जिम्मेदार नहीं हूं, बल्कि पूरा मंत्रिमंडल जिम्मेदार है। विधान परिषद में विपक्ष के नेता अंबादास दानवे ने इस बयान की कड़ी आलोचना की है और कहा कि तानाजी सावंत अपना जिला नहीं संभाल सकते हैं तो राज्य क्या संभालेंगे। मैं भी उनके बयान से सहमत हूं।
-कृष्णा गुप्ता, वाशी

ईडी सरकार ने जनता को दिया नया झटका
केंद्र और राज्य की `ईडी’ सरकार जब से सत्ता में आई है तब से आम जनता को झटके पर झटका दे रही है। केंद्र सरकार ने पिछले दिनों गैस सिलिंडर के दाम बढ़ाए थे तो `ईडी’ सरकार ने अब बिजली के दाम बढ़ाकर झटका दिया है। महावितरण ने सितंबर माह में पॉवर बिल में उपभोक्ताओं पर ईंधन समायोजन शुल्क लागू किया है, जिसके कारण पॉवर बिल में प्रति यूनिट १५ पैसे से लेक ९८ पैसे की बढ़ोतरी नजर आएगी, जिसका प्रभाव पॉवर कंज्यूमर्स पर पड़ेगा। ‘दोपहर का सामना’ ने इस खबर के माध्यम से जनता में इस बढ़ोतरी के कारण फैले रोष को उजागर किया है। मेरा मानना है कि यह जनता की जेब पर सीधे-सीधे डाका डाला गया है, इसका विरोध होना चाहिए।
-राहुल मोरे, नायगांव

अन्य समाचार