मुख्यपृष्ठनमस्ते सामनापाठकों की पाती : घाती सरकार में कोई शर्म नहीं बची!

पाठकों की पाती : घाती सरकार में कोई शर्म नहीं बची!

दोपहर का सामना ने महाराष्ट्र के विभिन्न सरकारी अस्पतालों में दवाई की किल्लत से हुई मौतों पर घाती सरकार को अब तक घेरे रखा है। इसी के तहत शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता व विधायक आदित्य ठाकरे द्वारा किए गए घाती सरकार की आलोचना की खबर को प्रकाशित किया है। इसमें बताया गया है कि आदित्य ठाकरे ने कहा कि राज्य के सरकारी अस्पतालों में मरीजों की मौत के लिए घाती सरकार जिम्मेदार है। उनकी अक्षमता के कारण गरीबों को अपनी जान गंवानी पड़ रही है। इस सरकार में बैठे लोग इस्तीफा नहीं देंगे। मैं आदित्य ठाकरे की इस बात से सहमत हूं। इस सरकार में कोई लाज, शर्म नहीं रह गई है। अब जनता ही इन्हें सबक सिखाएगी।
– मंगेश यादव, साकीनाका

ठाणे में श्मशान की जगह पर निर्माण
घाती सरकार के मुख्यमंत्री शिंदे के गृह क्षेत्र में मनपा प्रशासन श्मशान को भी नहीं बख्श रहा है। ‘दोपहर का सामना’ में छपी खबर के अनुसार, वागले श्मशान भूमि की तरह कोपरी ठाणेकरवाड़ी श्मशान भूमि को विकसित करने के लिए ठाणे मनपा प्रशासन ने योजना तैयार की है। लेकिन मनपा की इस योजना को फर्जी बताते हुए कोपरी वासियों ने सभी दलों के साथ एक पदयात्रा निकालकर अपना विरोध जताया। रहिवासियों ने इस योजना को तुरंत रद्द करने की मांग की है। ऐसा नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है। इससे पता चलता है कि प्रशासन इन दिनों अपनी मनमानी करने में व्यस्त है, लेकिन अब जनता जागरूक हो चुकी है। लोग यह सहन नहीं करेंगे।
– संजय सिंह, ठाणे

अन्य समाचार