मुख्यपृष्ठनए समाचारमुजफ्फर नगर का बदला कठुआ में ब्लैकबोर्ड पर लिखा `जय श्रीराम'

मुजफ्फर नगर का बदला कठुआ में ब्लैकबोर्ड पर लिखा `जय श्रीराम’

सामना संवाददाता / जम्मू

मुजफ्फरनगर के निजी स्कूल में एक बच्चे की पिटाई का मामला अभी शांत नहीं हुआ था कि जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले के एक सरकारी अपर सेकेंडरी स्कूल से नया मामला सामने आ गया। दरअसल कठुआ जिले के बनी इलाके में एक प्रिंसिपल और एक शिक्षक पर १०वीं कक्षा के एक छात्र को ब्लैक बोर्ड पर ‘जय श्री राम’ लिखने के लिए शारीरिक दंड देने के आरोप में मामला दर्ज किया गया है।
जानकारी के मुताबिक, घटना शुक्रवार की है और एफआईआर दर्ज कर ली गई है। छात्र को इस तरह पीटा गया कि उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। हालांकि पुलिस ने आरोपी स्कूल शिक्षक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, प्रिंसिपल पर भी किशोर छात्र के साथ मारपीट करने का आरोप है और वह फरार है। पुलिस ने बताया कि पीड़ित छात्र का अस्पताल में इलाज चल रहा है।
घटना की खबर फैलते ही बनी शहर में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए विरोध प्रदर्शन हुआ। आरोपियों की पहचान स्कूल के प्रिंसिपल मोहम्मद हाफिज और लेक्चरर फारूक अहमद के रूप में हुई है। दोनों पर आईपीसी की धारा ३२३ (जानबूझकर चोट पहुंचाना), ३४२ (गलत तरीके से कैद करना), ५०४ (जानबूझकर अपमान करना) और ५०६ (आपराधिक धमकी), और किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) अधिनियम की धारा ७५ (बच्चे के प्रति क्रूरता) के तहत मामला दर्ज किया गया है।
कठुआ के उपायुक्त राकेश मिन्हास ने घटना की जांच के लिए तीन-सदस्यीय समिति का गठन किया है। पुलिस ने कहा कि २५ अगस्त को कुलदीप सिंह ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके बेटे को स्कूल के शिक्षक फारूक अहमद और स्कूल के प्रधानाचार्य मोहम्मद हाफिज ने पीटा था। किशोर न्याय अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत पुलिस थाने बनी में मामला दर्ज किया गया और स्थानीय थाना प्रभारी के नेतृत्व में एक टीम ने स्कूल परिसर का दौरा किया और शिक्षक को पकड़ लिया।
एफआइआर में कहा गया है कि बच्चे ने बोर्ड पर जय श्री राम लिखा था। जब फारूक क्लास में आया और उसने ये देखा तो वह बाकी स्टूडेंट्स के सामने ही बच्चे को क्लास से बाहर ले गया और बुरी तरह पीटा। फिर वह लड़के को प्रिंसिपल के कमरे में ले गया और दोनों ने कमरे को बंद कर दिया और बच्चे की पिटाई की। उन्होंने उससे कहा कि अगर उसने दोबारा ऐसी हरकत की तो वे उसे मार डालेंगे। इस पिटाई में लड़के को काफी गंभीर चोटें आईं और उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा।

अन्य समाचार